Love to read and write...my new passion

आज बैठे घर में ख़ाली सोच रहा था मैं,
कैसे कुछ लोग मार सकते है doctors को जिनके हाथों में है देश।

जो दिन रात प्रहरी बन...कर रहे है सेवा,
कैसे कोई अनदेखा कर दे उन police वालों की सेवा।

क्या इसी दिन के लिए भगत सिंह ने दी थी क़ुर्बानी अपनी,
उज्ज्वल भारत का सपना लेकर गांधी चले थे दाँडी।

ऐसी महामारी में जहाँ इंसान का वजूद हो ख़तरे में,
कैसे भूल सकते है हिंदुस्तानी यहाँ अपनी अपनी ज़िम्मेदारी।।

#stay home #safe India


#उज्ज्वल

Read More

ये बात मैंने ज़िंदगी से सीखी है ,
हँसने का हुनर मैंने लड़ कर सीखी है।

हर वक्त एक शक्स का इंतेज़ार करना ईमान की बात है,
लेकिन वो न आएगा ये पता होने पर भी करना ग़लत बात है।

लड़ना , हारना और फिर खड़े होकर लड़ना,
न रुकना कभी जीवन में ...बस इतना-सा सार है।

मौक़ा मिलेगा तुझे भी बस कर इंतेज़ार अपने वक्त का,
ये ही न्याय और सार है जीवन का ।

#सार

- A A Rajput ‘अक्श’

Read More

हाँ कल आई थी वो ख़्वाब में और मैंने पहचानने से इंकार कर दिया ,
जो हक़ीक़त में साथ नहीं ,उससे ख़्वाबों में क्या वास्ता रखना।।

#सार

- A A Rajput ‘अक्श’

Read More

औरत...सिर्फ़ शब्द नहीं..एक महान ग्रंथ है,
जिसमें मिलते वो हर विलक्षण गुण...जो सिर्फ़ भगवान में है ।

औरत से ही दुनिया...उसी से सृष्टि का आरम्भ है,
जिसमें मिलती आकर करुणा की सागर...उसी से जन्मता त्याग है ।

ईश्वर भी जिसके बिन है अधूरा..वो शक्ति और लक्ष्मी का अवतार है ,
ख़ुद भगवान भी लेते जन्म जिस प्रेम को पाने को..वो ममता मिलती ‘माँ’ में है।

एक औरत..जो कई रूप समेटे ख़ुद में..हर किरदार निभाती है,
कभी माँ बनकर पुचकारना तो कभी पत्नी बन साथ निभाती है ।

औरत...सिर्फ़ शब्द नहीं...एक महान ग्रंथ है ।।

#happy #women ’s #day

-A A Rajput ‘अक्श’

Read More

ये कैसा दीवाना था भारत माँ का ‘भगत’....
झूमते हुए जेल के गलियारे में,फंदे को भी उसने चूम लिया।

ऐसी शहादत न देखी थी कभी किसी ने,
ख़ुद माँ भारती ने उस शहीद-ए-आज़म का माथा चूम लिया.

#kiss #unconditional #loveformotherland

The best kiss I have ever seen...

-A A rajput ‘अक्श’

Read More

मेरी ख़ामोशियों में तेरा ज़िक्र,
दर्द को अब दिल में रख हँसने लगा हूँ।

तू दुनियादारी समझ गई ,
और मैं तुझे दुनिया समझने लगा हूँ।

#unconditional #expression #love

-A A rajput’अक्श’

Read More

काश.. उस पल को सदियाँ बना देते हम,

चेहरे पर रहे नक़ाब को हक़ीक़त बना देते हम।

#face #unconditional #love

-A A rajput ‘अक्श’

एक दिन हम दोनो ने सजदे में..एक साथ सर झुकाया था,
मैंने उसकी ख़ुशी और उसने किसी ओर को माँगा था।

उस दिन खुदा हम दोनो पर मेहरबान हो गया,
मेरी दुआ क़बूल और उसे उसका प्यार मिल गया।।

#unconditional #love

-A A Rajput ‘अक्श’

Read More

अब फ़ुरसत से नहीं बैठता मैं,

तुझे याद न करने का नया तरीक़ा सिखा है।

#uncoditional #infinite #love

-A A rajput ‘अक्श’

तू कहती थी न मेरा अहंकार ही तोड़ेगा मुझे,

देख आकर तेरी कमी से बिखर गया हूँ मैं।

#unconditional #love

-A A rajput ‘अक्श’