Myself Anil Patel aka Bunny, writing and photography is my passion.

दोस्ती,

एक ऐसा रिस्ता जो इस जहाँ में हर किसी के नसीब में नही होता,
लगता है एक पल सदियो जैसा, जब दोस्त करीब में नही होता।

Dedicated to all Friends...

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

लाख कोशिश कर ले मुझे हराने की, हारना मेरी फ़ितरत में नही। लड़ता था, लड़ रहा हु और लड़ता ही रहूंगा

बचपन से ही ज़िद्दी हु, अब तो ज़िद है तुझसे ऐ ज़िंदगी, पीछे खिंचना बंद कर, क्योंकि में आगे बढ़ता ही रहूंगा।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

क्यों इतनी कठिनाई है सच्चाई की राह पर, क्यों करता मुझे तू झूठा बनने पर मजबूर?

बुरा में नही हूं पर बुरे मेरे हालात है, क्या तुझे मेरा अच्छा बने रहना भी नही है मंजूर?

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

क्यों देखी नहीं जाती तुझसे मेरी खुशियाँ ऐ जिंदगी, अब तो हंसते हुए भी डर लगता है,

छीन ना ले तू खुशियाँ मुझसे करता हूं सो जतन, हर गलत रास्ता खुशियों का मंज़र लगता है।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

कहते है हर गलती की सजा होती है, बता मैंने ऐसी क्या गलती कर दी ऐ मेरे खुदा,

पराये तो हंमेशा पराये ही रहे ना बने कभी अपने, अब तो हो रहे है अपने भी मुझसे जुदा।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

उम्मीद,

उम्मीद तो तुझसे बहोत सी थी ऐ जिंदगी, काश उस उम्मीद पर तु खरी उतर पाती,

रखता था सबसे उम्मीदे तभी तो निराश हूं यारो, वर्ना जिंदगी तो यूं ही सँवर जाती।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

पत्ते में 'जोकर' और अपनों की 'ठोकर', हंमेशा पूरी की पूरी बाज़ी पलट के रख देता है।

कुछ भूले बिसरे पल याद ना आए होते तो ही अच्छा था,
किसी का दर्द देख के घूंट घूंट के ना रोते तो ही अच्छा था।

क्यों वक्त रहते ना पता चला हमें के है तुम्हे हमसे महोब्बत,
जो सपना देखा अकेला वो साथ मे संजोते तो ही अच्छा था।

पास आने की बात जाने दो, दूर हो के भी पास होती हो तुम,
तन्हाई में जल रहा हु, संग शुकुन से सोते तो ही अच्छा था।

हंसते हंसते कैसे बीत गए वो हसीन पल जिन्हें हमने गँवाया,
पल की बात छोड़ो, पर हम तुम्हे ना खोते तो ही अच्छा था।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

आईने में आज खुद को देखा तो लगा कुछ तो बात है मुझमे,
यूँ ही नही में जी रहा इस दुनिया मे बेवज़ह,
हिम्मत है तुझमे हर मुश्किलों का सामना करने की, गर्व कर अपने वजूद की, कर बुलंद होंसला,

जीत आखिर होनी ही है तेरी ये जान गया बात में, और हुई भी है जीत मेरी हर बार हर जगह,
तो फिर क्यों रोता फिरता है? देर लगेगी पर होगा वही जो तू चाहता है, क्योंकि ये है तेरा फैसला।

मुझे कोई कैसा भी समझ ले, इतना याद रखें मेरे बारे में तो मेहरबानी होगी,
करता अपने मन की हु, इसके लिए चाहे मुझे कोई भी किंमत चुकानी होगी।

कुछ अधूरे काम बचे है करने को, कर लूंगा उनको भी पूरा जब आएगा उनका वक्त,
आप लोग दुआएँ दे ना दे मुझे पड़ता नही कोई फर्क, क्योंकि में लौंडा हु थोड़ा सा सख्त।

"फ़रिश्ता" कहलाने के लायक ना हु में शायद, पर सच्ची दोस्ती के हु काबिल में,
आता नही हु किसी के समझ मे इतना हु टेढ़ा, पर उतर जाता हूं सीधे दिल में।

✍️ - Anil Patel (Bunny)

Read More

पाना था जिनको उनको पा ना सके, खो गए उनको भी जो सब अपने थे, जैसे वो कोई हक़ीक़त नही सपने थे,

सब कुछ हो जाए पहले जैसा ये देखने को मेरे नैना तरस रहे है, कम पड़ गई है मेरी आँखें भी, अब तो मेरे ग़म में बादल भी बिन मौसम बरस रहे है।

✍🏻 - Anil Patel (Bunny)

Read More