मैं हर किसी के लिए अपने आपको अच्छा साबित नहीं कर सकता , लेकिन मै उनके लिए बेहतरीन हूं जो मुझे समझते है... फॉलो करने के लिए दिल से शुक्रिया..

समाज का वो आईना,
जिसको हर कोई अब न साफ करता है,
जात पात की बातों को
नया दौर कहां अब याद करता है,
उन नवांकुरों को कोई ये बता दे ज़रा,
बहुमूल्य और कीमती होती हैं
अपनी तहजीबें, इतिहास और संस्कृति
इसको भूल कर भी क्या कोई ,
आगाज़ करता है।👍🙏🙏

Read More

रूसो के अनुसार,
मानव- स्वभाव में दो तत्व है- आत्म प्रेम तथा परोपकार की भावना।
मनुष्य एक आदर्श बर्बर है।
प्रारंभिक अवस्था में उसका जीवन निष्कपट और आदर्श रहता है, क्योंकि मनुष्य अपने हृदय की आवाज के आधार पर निर्णय करता है, परंतु विवेक के उदय के साथ ही मनुष्य में व्यक्तिगत संपत्ति या तेरे मेरे के भाव का उदय हुआ और इसी के साथ मनुष्य का शांत आदर्श जीवन संघर्ष में बदल गया।👍

Read More

सब बहाने है प्यार के
कोई प्यार को समझ पाया है क्या?
मोहब्बत मोहब्ब्त सब चिल्लाते है
अरे छोड़ो मोहब्बत को कोई निभाया है क्या?
दो पल के जिस्मानी खुशी के लिए
पल पल किसी को मरता छोड़ आया है क्या?
अपनी मोहब्बत की खातिर करते हैं सब, यही ना
तो वो घर वालें कोई पराया है क्या?
सब बहाने है प्यार के
कोई प्यार को समझ पाया है क्या?
धन्यवाद❤️

Read More

देख के अनदेखा कर जाना
ऑनलाइन पर किया बहाना
कॉल का कोई रिप्लाई न आना
बिजी हो का किया बहाना
बार बार बस यही बताना
कुछ बात बहुत ही सताती है
करती हो इग्नोर बहुत तुम
ये बात समझ में आती है।।

Read More

माना दूरियां है बहुत आज रिश्तों में,
बात करने से बात की बात रह जाती है।

दूर होते है जिस्म से, रूह तो साथ रह जाती है,
बात करने से बात की बात रह जाती है।

रूठने से तेरे इश्क़ की बात अधूरी रह जाती है,
बात करने से बात की बात रह जाती है ।

लड़ाई झगड़े तो फलसफे है जीवन के,
बांकी सब कुछ याद बन कर रह जाती है।

बात करने से बात की बात रह जाती है,
बात करने से सुलह की आस रह जाती है।

बात करने से बात की बात रह जाती है।।

Read More

लिखता हूं,
हर रोज लिखता हूं,
बहुत लिखता हूं,
इन कागजों पर अपनी खामोशियों को
हर रोज कुरेदता हूं,
पर क्या फर्क पड़ता है किसी को? जैसे मैं टूटा हूं वैसे जग टूटा है, मेरी किस्मत रूठी है जैसे तू रूठा है।।
आह से चीख निकलती है हर रोज, आंसूओं का सैलाब उमड़ा है और दिल एक बात कहता है, I MISS YOU ❤️❤️

Read More

बड़े आराम की जिन्दगी है
शुकून में तुम बीता लेना ।

फिर क्या लेना है दुनिया से
फिर दुनिया को क्या देना ।

मोहब्बत का बोझ है अब तो
तुम उसको ही निभा देना ।

बड़े आराम की जिन्दगी है
शुकून में तुम बीता लेना।

ना आगाज़ कभी करना
कभी ना अंजाम बता देना ।

सलीका यूं भी जीने का
किसी को न बता देना।

बड़े आराम की जिन्दगी है
शुकून में तुम बीता लेना ।

कभी जो छोड़ दे कोई तुमको
रोना ना कभी मुस्कुरा देना ।

ढूंढना न किसी का कांधा
सिर को दीवारों पर टिका लेना।

बड़े आराम की जिन्दगी है
शुकून में तुम बीता लेना ।

मोहब्बत मिल जाए किसी से तो
मोहब्बत ही चुका देना ।

कभी जो छोड़ दे कोई तुमको
रोना ना कभी मुस्कुरा देना ।

बड़े आराम की जिन्दगी है
शुकून में तुम बीता लेना ।।

धन्यवाद।।

Read More

बहुत अर्सा हुआ तुम्हें देखें
बुरी बातें भुला भी दो
गले लगा लो मुझे अब तो
चलो अब मुस्कुरा भी दो।।

बहुत रोया हूं मैं सुनलो
दिल में जगह बना भी दो
करो न यूं बेरहमी तुम
प्यार का कीमत चुका भी दो।।

Read More

जरा सी सांस बांकि है
जरा सा साथ तुम दे दो
न सपनों में मेरे आओ
न आंखों में मेरी देखो।

जरा सी याद बांकि है
जरा सा साथ तुम दे दो।

मेरे हमदम मेरी खातिर
बस इतना सा ही तुम कर दो
मेरी ना याद में आओ
मेरी न मौत तुम देखो।।

Read More