मैं हर किसी के लिए अपने आपको अच्छा साबित नहीं कर सकता , लेकिन मै उनके लिए बेहतरीन हूं जो मुझे समझते है... फॉलो करने के लिए दिल से शुक्रिया..

शुकून कहां है
प्यार कहां है
वक्त कहां है
रिश्ताें में
सब कुछ हां
सब कुछ
देख रहा वो
पर कुछ खोल
रहा न परतों में
डोर ये कैसी
कच्ची वाली
शोर बड़ा है
कमरों में
आज अचानक
सोच पड़ा वो
रह न पाया
ये सब देख कर
अपना आपा
खोल पड़ा
इंसानों की हालत
देखो ऐसा
कमरा बोल पड़ा ।।

Read More

बहुत हंसे हो तुम मेरी गुर्बत के साथ
आज हंस कर दिखाओ कामयाबी देख कर

की चांद भी अधूरा सा है चांदनी के बिना
आसमान अधूरा सा है धरती के मंजर के बगैर

चंद सवालों के जवाब ही तो थे देने
वक्त तो लगा है वक्त का फैसला देख कर।।

Read More

जाने कौन सा रास्ता इख्तियार कर लूं
ए खुदा, तू ही बता क्या खुद से प्यार कर लूं,

भूल जाऊं न वो... सारी बातों को....
खुद से, खुद को, खुद का, गुनहगार कर लूं,

खुदगर्ज बन कर जमाने भर की नजरों में
खुदा का नाम भी झूठा करार कर लूं।।

Read More

एक किस्सा यह भी मैंने आजमाया है
रिश्ते की डोर को कच्चा पाया है
जिसे शक था मुझ पर अबतक
उन सब ने भी मुझे सच्चा पाया है।।

Read More

वक्त बहुत बुरा है कभी किसी को हारने नहीं देता पर जीतने के लिए वक्त कम भी तो देता है।।

हाथों की लकीरों को मोड़ देता हूं
रास्ता ये भी चलो छोड़ देता हूं
उन्हे लगता है आवारगी बहुत की है जमाने में
कुछ दूर चल कर ये भ्रम भी तोड़ देता हूं।।

Read More

मुझे किसी और की ज़रूरत कहां है जब मेरे हाथ में तेरा हाथ है,
मैं बालक भोला भाला हूं और भोले मेरे साथ है।।
शंभू......

Read More

तेरी याद और तेरी मोहब्बत कुछ बात तो उसमे अच्छी थी
मै बुरा था तुम थी अच्छी ये बात कहां फिर सच्ची थी।।

किसकी तलाश है तुझे
खुद की पहचान काफी नहीं
तू ही दुर्गा है, तू काली है
तेरी जिंदगी आसान नहीं
कर पहचान अपने स्वरूप की
तेरी पहचान आसान नहीं
जिंदगी तुझसे सर्वनाश तुझसे
अस्तित्व का अभिमान नहीं
तू नारी है तेरी जिंदगी आसान नहीं।।

Read More

खुद की देखभाल खुद से किया करो आज कल इश्क़ भी खुबसूरत लोगों से करते है लोग।।