नतीजा फिर भी वही…ठन्न…ठन्न…गोपाल

by राजीव तनेजा in Hindi Humour stories

नतीजा फिर भी वही- ठण ठण गोपाल ट्रिंग…ट्रिंग….ट्रिंग…ट्रिंग… “ह्ह….हैलो…श्श….शर्मा जी?” “हाँ।…जी….बोल रहा हूँ…आप कौन?” “मैं…संजू।” “संजू?” “जी।….संजू…..पहचाना नहीं?...राजीव तनेजा की वाइफ।” “ज्ज…जी भाभी जी….कहिये…क्या हुक्म है मेरे लिए?…..सब खैरियत तो है ना?” “अरे।…खैरियत होती तो मैं भला इतनी रात ...Read More