Prem pana nahi hai balki ek jivan drashti hai by अभी सिंह राजपूत in Hindi Short Stories PDF

प्रेम पाना नहीं है बल्कि एक जीवन दृष्टि है।।

by अभी सिंह राजपूत in Hindi Short Stories

प्रेम पाना नहीं है बल्कि एक जीवन दृष्टि है।ऐसी दृष्टि जो हमें रागात्मक और उदात्त बनाती है ।जहाँ हम अपने आत्मा का विस्तार करते हैं।।जबकोइ आपको इग्नोर करता है ना तो दर्द होता है बहुत दर्द मैं समझ सकता ...Read More