sant kaviyo ki kavita me lok evm lokottar darshn by कृष्ण विहारी लाल पांडेय in Hindi Book Reviews PDF

सन्त कवियों की कविता में लोक एवं लोकोत्तर दर्शन

by कृष्ण विहारी लाल पांडेय in Hindi Book Reviews

सन्त कवियों की कविता में लोक एवं लोकोत्तर दर्शन सन्त काव्य अथवा व्यापक भक्ति काव्य के सम्बन्ध में यह स्थापना आध्यात्मिक दर्शन के रूप में काफी समय तक सरलीकरण की तरह प्रचलित रही कि यह काव्य लोक ...Read More