Dhara - 21 by Jyoti Prajapati in Hindi Love Stories PDF

धारा - 21

by Jyoti Prajapati Matrubharti Verified in Hindi Love Stories

धारा अपनी ही गुत्थमगुत्था में लगी हुई थी कि उसे अपने पैरों पर किसी का स्पर्श महसूस हुआ ! देव बाम लगा रहा था उसके पैर में !!धारा ने देव से पूछा , " जब तुम्हे सबकुछ पहले ही ...Read More