मीना कुमारी... दर्द भरी एक दास्तां - 2

by Sarvesh Saxena Matrubharti Verified in Hindi Social Stories

अलीबक्श उन दिनों फिल्मों में हरमोनियम बजाते थे, घर के हालात ठीक न होने के कारण इक़बाल बानो भी काम पर जाती ऐसे में रोजी रोटी जुटा पाना भी मुश्किल हो गया था और तीन तीन बेटियों का खर्चा ...Read More