Dhadhak - 20 by नादान लेखिका in Hindi Women Focused PDF

धधक (भाग-20)

by नादान लेखिका Matrubharti Verified in Hindi Women Focused

जिया और अमान एक दूसरे में सिमटे बेसुध से सोए हुए थे।दोनो को कोई जल्दी नही थी उठने की। ग्यारह बजे चुके थे। छत के जिस कोने में वे सो रहे थे, वहां धूप पहुंचने में समय लगता था। ...Read More