तेरे प्यार की कसम - 9 in Hindi Love Stories by Tanya gauniyal books and stories Free | तेरे प्यार की कसम - 9

तेरे प्यार की कसम - 9

वहाँ  रघु  नीचे आया और काम देखने लगा अंजली को सजाने के लिए  भी ब्यूटी पार्लर वाली आ गयी थी    
लगभग  7: 00 बज गए थे तैयारी भी हो चुकी थी   
अंजली  तैयार हो गयी थी  वहाँ पे आहना अनीता  प्रिया तिया सब थे 
अनीता :  हम तो तैयार हो गए दुल्हन भी तैयार हो गयी पर आयशा कहाँ  है   
तिया : हाँ  कहाँ है वो   
हाँ  दिखी नही कॉल करती हूँ  प्रिया ने आयशा को कॉल लगायी    
हाँ  प्रिया आयशा ने फोन उठाकर कहा 
प्रिया : कहाँ है तू  बरात भीआने वाली होगी  सब तैयार हो गए  तेरा लापता हो रखा है     बस आ रही हूँ   आयशा ने कहा 
प्रिया : तू तैयार  नही हुई   
आयशा खुदको शीशे मे देखकर  : ना ना हो गयी हूँ    
प्रिया :  हाँ  जल्दी  आ जा इंतज़ार कर रहे है     
आयशा ने हम्म कहा 
वहाँ  नीचे रघु  कोल्ड ड्रिंक पी रहा था  और आयशा का इंतज़ार कर रहा था  : आज प्लीज वो ड्रेस पहनके आना तुम्हें  उस  ड्रेस  मे देखना चाहता हूँ    
उसके पास संजय आया   :  अच्छे लग रहे हो 
रघु ने  एक पल उसको देखा  फिर नज़र  फेर के कोल्ड ड्रिंक पीते हुए बोला: थैंक यू
संजय: वैसे आज सुबह देखा मेंने कैसे तुम और आयशा बाहो मे थे 
रघु उसे देखकर : तुमने  मेरे पीछे  जासूस छोड रखे है 
नहीं तो संजय ने कहा 
तुम्हारी प्रॉब्लम क्या है आयशा मुझसे खुद बात करती  है तो क्या करूँ रघु  ने उसे देखकर कहा 
संजय गुस्से से बोला :  तूने उसे बहाओ  मे  क्यो पकड़ा था
रघु उसे देखकर बोला  :  तुम  जरा धीरे  बोलोगे यहाँ शादि हो रही है  हंगामा मत करो 
संजय ने  हम्म पर बताओ मुझे तुमने  ये सब क्यो किया
मै  नही बताता क्या करोगे रघु  ने बेफिक्र होकर कहा 
संजय: देखो मुझे गुस्सा मत दिलाओ दूर रहो आयशा से वरना तुम्हारे लिए अच्छा नही होगा    (रघु को पता नहीं क्या सनक  चढी़)
रघु उसकी तरफ मुडा़ और उसे गुस्से मे देखकर बोला :  अपनी तमीज मत भूलो  कुछ कहता नही हूँ इसका मतलब ये नही की तुम बकते जाओगे और  आयशा को बीच मे लाने की जरुरत नही  है         
रघु दाँत पीसते और उसका  कुर्ता साफ़ करते हुए : मुझे वो करने मे  मजबूर मत  करो जो मै  करना नही  चाहता  और आयशा की बात  मत करना  कुछ बोला  ना उसके बारे मे या उसे छुआ न तो  मुझसे बुरा कोई  नही होगा ,  जिंदा  गाड़  दूगा
संजय कुछ बोलने को हुआ  तब तक  अंजलि के मामा आ गए  और संजय को ले गए 
रघु कोल्ड ड्रिंक की सिप लेते हुए  सोच रहा था: अभी मुझे क्या हुआ था इतना  गुस्सा । उसके सर मे दर्द  होने लगा उसे कुछ याद आने लगा  वो शादि से  बहार चला  गया
संजय: इसे  अचानक क्या हुआ इतना  ज्यादा  गुस्सा  छोडूंगा ही तुझे
संजय आयशा के कमरे मे चला  गया  वह आयशा  कमरे को   बंद कर दिया था
संजय ने  उसे  देखा तो देखता ही  रह  गया
संजय उसके  पास गया: हाय 
आयशा रूम को बंद करते हुए हाय  संजय बोली 
आज बेहद  खूबसूरत  लग रही हो जैसे आज तुम्हारी ही  शादि हो रही है, तुमपे गुलाबी रंग बहुत खिल रहा है संजय ने कहा 
थैंक यू सो मच आयशा ने मुस्कराकर कहा  तुम  नीचे जा रही हो संजय ने पूछा 
ना अंजली  के कमरे मे
संजय: अच्छा  तुमसे  कुछ बात करनी थी
आयशा के फोन मे तिया का फोन  आया
आयशा ने  एक मिनट हा कहा और  फोन उठाया: आ रही हूँ  निकल गयी हूँ  ( उसने फोन कट कर दिया )
तुम बिज़ि  लग रही हो
हा मे  जाती हूँ  वरना वो सब यहा आ जायेंगे
कोई नहीं जाओ संजय ये बोलकर हॉल  मे चला  गया
आयशा वहीसे अंजली  के कमरे मे पाहुँची
तिया: कहा है यार ये  आज इसकी  शादी हो रही है क्या
प्रिया : हा यार कहाँ रह गयी 
आयशा पीछे से बोली :   यहाँ हूँ  मे 
सबने पीछे  देखा  कहाँ  थी.... तिया ने कहा 
सब आयशा को देखकर चुप हो गए  सब लोग उसे मू फाड़कर देखे जा रहे थे 
  प्लीज गुस्सा मत करना रास्ते मे संजय मिल गया था   इसलिए देर हो गयी  
आयशा मासुम सा चेहरा बनाकर  बोली :  अब प्लीज फाम कर दो ऐसे क्यो देख रहे   हो अच्छी नही लग रही क्या मे( सब भागते  हुए उसके पास आए )
तिया  : वाओ  आयशा कितनी प्यारी लग रही है  
प्रिया : ये ड्रेस कितनी प्यारी लग रही है  तुझपर चाँद का टुकड़ा लग रही है   
अंजली  : ऐसा लग  रहा है जैसे आज तेरी ही शादि हो रही है   ( उसकी  बलिया  लेते हुए बोली :  नज़र ना लगे तुझे बेहद  खूबसुरत  और  ये ज्वैलरी भी सब कुछ बेहद  खूबसुरत लग रही है    
अनीता  ने 2 सीटीया मारी  :  मार दाला  रे 
आहना  ने अपनी आँखो से काजल निकालकर आयशा के कान के पीछे   लगा दिया  : दी बहुत प्यारी लग रही हो  
: सच्ची  इतनी अच्छी लग रही हूँ  मै आयशा ने मुस्कराकर कहा 
अनीता: हा बहुत अच्छी और यह मेहंदी इसमे चार चांद लगा रही  है आयशा ने  थैंक यू कहा 
अनीता: कही सब तुझको  देखकर अंजली  को ना भूल जाए
अंजली झूठी नाराजगी से बोली :  हा यार कही तुझे  दूल्हन ना समज ले
चुप करो दूल्हन तो अंजली  है
आयशा अंजली के पास आयी और काजल निकाल के अंजली के  कान के पीछे लगा दिया: बहुत प्यारी लग रही है  तू
हा पर तुझसे ज्यादा नहीं अंजली ने उदासी का नाटक करते हुए कहा  ऐसा नहीं है यार आयशा जबतक पूरा बोलती  अनीता बोली :  ऐसा ही है यार
वहा रघु का सर दर्द  चला  गया था उसने  खुद को संभाला  और आ गया
वो इधर उधर आयशा को देखने लगा : आयशा अब तक नहीं आयी और ना ही बाकि सब दिख रहे  है
रघु मन मे बोला : कब आओगी  ज्लदी आ जाओ  कब से इंजार कर रहा  हूँ  तुम्हारा 
कमरे मे 
अंजली : आयशा मेने कहा था ना लांछा अच्छा  होगा
हा बहुत अच्छा  है आयशा ने कहा 
: गिफ्त कैसा  गिफ्त  अनीता ने कहा किसने दिया तिया ने पूछा 
मेरे एक  दोस्त  ने दिया है आयशा ने जवाब दिया
कौनसा  दोस्त बाता ना प्रिया ने शक भरी निगाहों से देखकर कहा और 
अनीता ने ने भी पूछा : हा कौनसा संंजय 
संंजय  ने  दिया है वाह कितना प्यारा लग रहा  है तिया ने कहा : नही  मतलब किसी और ने  दिया है आयशा के मू गलती से निकल गया 
फिर किसने तिया ने कहा बता न किसने 
अंजली ने आयशा से कहा :  बता देना क्या चला जाएगा
तिया ने गेस करते हुए कहा  हम्म् मुझे लगता है रघु   ने दिया है 
आयशा ने हम्म कहा और 
प्रिया ने उसे छेड़ते हुए कहा :  हाँ देखा मतलब हमारे जीजू ने दिया  है तो  बताओ ना फ़िर शर्म किस बात की 
क्या बात कर रही  है  वो तेरा जीजू नहीं है आयशा ने चिड़कर कहा 
हा प्रिया वो होने वाले जीजू है तिया ने नौटंकी करते हुए कहा 
अनीता: सही कहा तुने कितना प्यारा गिफ्त  दिया है वो भी जानता है की आयशा बहुत अच्छी लगेगी इसमे
क्या अनापसनाब कहे जा रहे  हो आहना ने कहा 
आयशा ने भी कहा : हा यार तुम सबको हो  क्या गया है जीजू  नहीं है अगर उसे पता लगेगा तो वो बुरा मान जाएगा
आहना  मन  मे बोली  : दी आपको नही  पता  वो आपको अच्छा  मानता है
अब अगर तुम लोगो को  ये सब कहना है  तो मे चली  जाती  हूँ आयशा ये बोलकर जाने लगी 
प्रिया ने उसका हाथ पकड़कर कहा : तू  नराज  मत हो यार हम नहीं कहेंगे
अनीता: हा यार तू नराज मत हो
तिया: अब से कोई नहीं कहेगा 
आयशा ने  हा कहा और 
सब एक साथ बोले  : हम तुझसे प्यार करते है  आयशा
वो सब आयशा के गले लग गए
आई लव यू ऑल अब जाओ  नीचे  बारात आने वाली होंगी
प्रिया ने कहा : हा मे तिया अनीता और आहना जाते है 
आयशा ने  ठीक है कहा 
वो सब निकलगे सिर्फ  आयशा और अंजली को छोड़के
वहाँ रघु सीढियो को ही देखे जा रहा था उसे  दिखा की अनीता प्रिया तिया और आहना आ रहे है  वो सीढियो से कुछ दुर खडा़ हो गया और उन्हें देखने लगा 
अनीता: वो देख आयशा का दिवाना कैसे देख रहा है  
प्रिया: हा पर आज लग कितना स्मार्ट लग रहा  है कल से ज्यादा 
तिया: वो  स्मार्ट है तो  स्मार्ट ही लगेगा ना
अनीता: हा और अयशा भी कुछ कम नहीं है
प्रिया: हा यार अभी आएगा हमसे  पूछने आयशा कहा है
तिया और अनीता हसँ दिए
रघु  उन सबको देखकर सोच रहा था कि  इनसे पूछू आयशा कहाँ है यहा नही यार वरना गलत समझेंगे 
वहाँ कुछ  लड़कीया रघु  को घूरे जा रही थी 
एक लड़की : क्या लग रहा है 
दुसरी लड़की : हा यार मस्त लग रहा है 
तीसरी लड़की : चल बात करते है इससे 
पहली लड़की  ने हा कहा  वो सब रघु  के पास जाने लगे पर तब तक बारात  आ गयी सब वहाँ चले गये
अंजली के परिवार ने हर्षित के परिवार का स्वागत किया 
हर हर महादेव 
 

Rate & Review

N  boss

N boss 4 months ago

Tanya gauniyal

Tanya gauniyal 5 months ago

Usha Dattani Dattani
sangeeta ben

sangeeta ben 5 months ago