Hey, I am on Matrubharti!

बातें वो आवाज़ कुछ हलकी हलकी सी है
पर यादे ठेहर गयी हैं तेरे पास
धीरे धीरे आगे बढ़ रहें है हम
पर वो साथ कही रह गया है तेरे पास
हसते रहते है वैसे तो हम
पर वो मुस्कान ठहर गयी है तेरे पास
तुझे मूड कर देखा नहीं फिर कभी
पर ये नज़र ठहर गयी है तेरे पास
वक़्त बस युही गुजरता रहता है
पर हर जज़्बात रह गये हैं तेरे साथ
हम तो निकल गये है कब से दूर तूमसे
पर ये दिल तो वही ठेहर गया है तेरे पास।
-Chandrika Gamit

Read More

प्यार व्यार का तो पता नहीं पर हां उसे देखते ही हम अपने सारे गम भूल जातें हैं।
-Chandrika Gamit

वो कही खो गया है कोई ढूंढ कर लादो ना उसे
भोली सी सूरत है आँखो में शरारत है
कही दिख जाये तो बताना उसे
कोई आज भी वही ठेहरा उसके इंतजार में
वो उसकी बचपन वाली देहलीज़ पर
हो सके तो केहना उसे जलदी से लौट जाये
कोई तिनका तिनका बिखर रहा है उसके बगैर।
-Chandrika Gamit

Read More

उनके बारे में बयां करना हो तो दो शब्दों में भी बयां कर दूं पर इतने से मन भी तो नहीं भरता।
-Chandrika Gamit

क्या हुवा अगर वो हमारे हिस्से में नहीं
क्या हुवा अगर वो हमारी किस्मत में नहीं

हमारी डायरी के हर पन्नों पे वो है
हमारी हर यादों में , बातों में, कहानियों में
उसके हर एक किस्सों में वो है

दिन की शुरुआत में रात की आख़री बात में
मिडनाइट की वेकअप वाली और
सुबह के सपने वाले हर एक पल में वो है

हमारी मुस्कान में, उम्मीद में, हर खुशी में
हमारे हर एक गम में, उदासी में वो है

हमारे प्ले लिस्ट के हर गाने के मायनो में
रोमांटिक फ़िल्म के डायलॉग में वो है

मंदिर की घंटी में, भगवान से मांगी इच्छा में, हर दुवा में
हर मन्नत में, टूटते तारों की पलकों से गिरे बालो से
की हुवी हर ख्वाहिश में वो है

उन सड़को पर,पुराने वाले स्कूल और इस शेहर के
हर मंज़र पर बस वो ही वो है

हमारे अकेलेपन में, हमारे आस पास की भीड़ में
हर तीज में, हर त्यौहार में,
हमारे सजने सावरने में वो है

कान्हा के भजनों, में राधा की दीवानगी में
मीरा बाई के जोगन वाले हर राग में
जो महसूस होता है वो है

सायद हर सांस में बस वो ही वो है
हमारे लिये प्यार भी वो है प्यार के मायने भी वो है

तो क्या हुवा अगर वो हमारे हिस्से में नहीं
क्या हुवा अगर वो हमारी किस्मत में नहीं।
-chandrika gamit

Read More

तुजसे मिलकर ये जाना की दिल से मुस्कुराना क्या होता है
कोई क्यूँ युही बेवजह हर बार मुस्कुराता है

दिल धड़कता तो है पर किसीको देख कर
अपनी धड़कने महसूस होती है तो कैसा लगता है

पहली बार जब कोई खयालो में आता है दिल
कुछ भी समझ नहीं पता है तो क्या होता है

तुझसे मिलकर जाना की दुनिया की नज़रो में हम
चाहे जैसे भी हो पर जब किसीकी प्यार भारी नज़रे
हमें देखती है तो कितना खूबसूरत महसूस होता है

चाहे कितनी भी परेशानिया क्यूँ ना हो किसीका
मुस्कुराना जादू की तरह सब कैसे ठीक कर देता है

तुमसे मिलकर यूं लगा मानो दुनिया का सबसे नायाब
कुछ बोहोत ही खास सा अजूबा देख लिया हो

खुद से खुद की पहचान होती है सजना सवर ना होता है
शर्माना हुवा गाभराना होता है खुद में ही जब ऐसे
बदलाव आते है तो कैसा लगता है

तुमसे मिल कर पेहली बार ये जाना की किसी
और की नज़रो में खुद की एहमियत क्या होती है

जब कोई तुम पर अपना हक़ जमाता है तुम्हे अपना
मानता है तो दुनिया के ताने भी फीके से लगते है

बस तुमसे मिलकर ही तो जाना है की ये जो लोग
इश्क विस्क की बातें करते है वो क्या होता है
तुमसे मिलकर ही तो इश्क के माइयने समझे है।
-chandrika gamit

Read More

तुझसे पूछे बिना ही ये दिल तेरी उम्मीद लगाये बैठा है
तेरी मर्ज़ी जाने बगैर ही ये दिल तेरा होके बैठा है
तेरी इज़ाज़त के बिना ही ये रब से तुझे मांग बैठा है

तु कैसा है क्या है तेरी पसंद नापसंद ये कुछ नहीं जानता
फिर भी ये तुझे अपना मान बैठा है

तु मुझे मेरी तरह चाहेगा या नहीं ये जाने बगैर ही
ये दिल तेरे सपने सजाये बैठा है।
-Chandrika Gamit

Read More

ऐ खुदा उनके लिए मेरे दिल में इतनी मोहब्बत भरना की
वो जब किसी और के साथ भी हो तो
मुझे उनकी मोहब्बत पे भी मोहब्बत आये।
-Chandrika Gamit

Read More

पैसा होना बहोत जरुरी है पर अंधों की तरह उसके पीछे भागना और उसी भगदड़ में अपनों को वक़्त ना देपाना बुरा है,
पैसो की असली कीमत उनसे पूछिये जो आज
करोडो लुटाकर भी अपनों को एक एक सांस के लिए तड़पता देख रहे है और आखिर में उन्हें खोने के बाद बालदिया भर भर के
उनहीं पैसों को रास्ते पर हवा में उड़ा रहे है।
-Chandrika Gamitl

Read More

थक जाती हु में हररोज के इन बेवजह तानो से
कभी कभी तो अपना घर ही पराया लगने लगता है
अगर तु साथ होता पास होता तो वो मेरा अपना कोना होता
जहाँ मेरी हर खुशियों का जवाब होता
जहाँ मेरे हर गमों का हिसाब होता।
-Chandrika Gamit

Read More