मेरा ये मर्ज अब.. लाइलाज़ है "साहब मेरा हकीम दूसरे घर ब्याह दिया गया..।

ऐ अंधेरों आ ज़रा लिपट कर रो लूं मैं तुझ से

एक मुद्दत से मुझे किसी ने गले से नहीं लगाया...

શોધજે મને
ભીની ભીની લાગણીઓ માં સુક્કી વ્યવહારિકતા માં હુ નહિ મળું ........
શોધજે મને
નજીક થી હર્દય ની મોકળાશ માં
જોજનો વિસ્તરેલી દુરતા માં હુ નહિ મળું .......
હુ અલગ છું અલગ મારું અસ્તિત્વ ભીડની ભાગોળમા હુ નહિ મળું ......
મારા મૌન માં પણ ભીની વાતો હશે અર્થહીન શબ્દો માં હુ નહિ મળું .......

શોધજે મને ........😔

Read More

🥃

epost thumb

जख्मों पर मरहम लगवाना है लेकिन उसके हाथो से

चारा साजी एक तरफ है उसका छूना एक तरफ

न जाने क्यु लोगों ने रक्खा है मुझसे इतना बैर...
जीने की इज़ाज़त तो दी पर वो भी तेरे बगैर...

એણે પૂછ્યું.
રસ્તો અગત્ય નો છે,
કે મુકામ!
મેં કહ્યું "સાથ".

उसे आशिको की कमी ही कहाँ...

झूठी मोहब्बत में बहुत माहिर है वो....

औरत कुछ भी जोड़ सकती हैं
मर्द के टूटे हुए शर्ट के बटन से लेकर टूटी हुई किस्मत तक ......

वो पहली नज़र वो चेहरा तुम्हारा
जब आँखों से तुमको था दिल में उतारा
मैं भूला नहीं हूँ पनाहों को तेरी
वो जिसमें था मैंने ज़माना गुज़ारा
बिछड़ने से पहले तेरा वो मुझसे लिपट जाना
वो बेबस निगाहें मेरी अबतक फरियाद करती है

Read More

तुम्हारे प्यार का रोग नही जाता कसम ले लो.....

गले में डाल कर मैने सैकड़ों ताबीज देखे है.......