अगर मुस्कुराहट के लिए ईश्वर का शुक्रिया नहीं किया, तो आँखों मे आये आँसुओं के लिये शिकायत का हक़ कैसा ?

चाहे कितना भी बदल जाये ज़माने का चलन,
हमने कभी झूठ से सच्चाई को हारते नहीं देखा !!

अंगड़ाई भी एक अजब बला हैं...
लेती मैं हूँ, घायल तुम होते हो।

-Hardik Boricha

जब खुद की एहमियत बतानी पड़ जाये,
तब समझ लेना आपकी कोई एहमियत नहीं रही !!

🌹💐🌹GOOD MORNING🌹💐🌹

*कदर किरदार की होती है...*
*वरना कद में तो साया भी इंसान से बड़ा होता है...*

🌹💐🌹GOOD MORNING🌹💐🌹

उतनी देर तक ही खामोश रहो,
जब तक लोग तुम्हें कमजोर न समझे !!

🌹💐🌹GOOD MORNING🌹💐🌹

*गंदगी तो, देखने वालों की,*
*'नज़रों में होती है..'*
*वरना कचरा चुनने वालों को तो,*
*"उसमें भी रोटी नज़र आती है....."*

🌹💐🌹GOOD MORNING🌹💐🌹

Read More

*किसने कहा !*
*बढती उम्र, सुंदरता को कम करती है,*
*ये तो बस...*
*चेहरे से उतरकर, दिल में आ जाती है..!!*

*लफ़्ज़ों के बोझ से थक*
*जाती है*
*ज़ुबान' कभी कभी...*
*पता नही 'खामोशी'....*
*'मज़बूरी' है.? कि 'समझदारी'.?

वो बुलंदियाँ भी किस काम की जनाब,
इंसान चढ़े और इंसानियत उतर जाये..!!

यूं ना छोड़ ज़िंदगी की किताब को खुला, बेवक्त की हवा ना जाने कौन सा पन्ना पलट दें।