Song writer gujarati Hindi nd Rajsthani story writer nd reading books

"मेरी खमोशियो के राज़ ख़ुद मुझे ही नहीं मालूम,
जाने क्यू लोग मुझे मगरूर समझते है !!"

अज्ञात

"और भी बनती लकीरें दर्द की शायद,
शुक्र है तेरा खुदा जो हाथ छोटा सा दिया !!"

अज्ञात

शिवाजी महाराज

ज़िंदगी में कुछ काम ऐसे भी करो की,
जिनका खुद के सिवा कोई दूसरा गवाह ना हो.!!!

सहीद जवान को नमन करता हूं 🙏🙏
🙏🙏जय हिंद 🙏🙏

ढूँढना है तो अपनी परवाह करने वाला ढूंढो,
क्यों की इस दुनिया में आपको इस्तेमाल करने वाले,
तो आपको ढूंढ ही लेंगे...!!!

Read More

please read my story nd Raiting nd comments all frends🙏🙏
Harsh Parmar लिखित कहानी "गरीब की दोस्ती - 2" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19906375/poor-friendship-2

Read More

कभी हम भी वक़्त के साथ चलते थे,
आज वक़्त ने ही हमसे मुह मोड लिया...!!!

हर्ष