No drink... No cry... See sky and keep smile...

तरस गई है ये आंखें तुझे निहारने को,
काश आखरी बार थोड़ा और देख लिया होता...

પપ્પા એટલે
પરમેશ્વર ના 18 પુરાણ કરતાં
વધુ practical પુસ્તક....

Happy Father's Day 🌻

लिखने को तो तेरे पर क्या क्या लिख शकती हूं,
पर तू शर्माए ना, पास आने से गभराए ना,
इस लिए बस कागज पर सिर्फ तेरा नाम लिख देती हूं...❤️

Read More

ઇન્દ્રધનુષ ને શું ખબર કે તેના સાત રંગ કરતા,
કોઈ એક વ્યક્તિ ના પ્રેમ નો રંગ મારા પર ભારી પડે છે....🌈

सुनो, तुम ना एक दम चाय जैसे हो,
कड़क, मीठे और मेरी नींद उड़ने वाले...😍

सुस्त दोपहर के लम्हों में तेरे कांधे पर गिरना,
ऐसी नजदीकियों पे सौ राते कुरबान...💖

क्या लिखूं तुझ पर
कुछ लफ्ज़ नहीं है
दूरी का एहसास लिखूं
या बेपहान मोहब्बत की बात लिखूं
एक हसीन ख़्याल लिखूं
या तुमको अपनी जान लिखूं
तुम्हारा खूबसूरत ख्याल लिखूं
या अपनी मोहब्बत का इजहार लिखूं
तूने ही मुझे लिखा
अपने प्यार की कलम से
ऐ मेरे प्यार बता,
मैं तुझको किस तरह लिखूं ....

Read More

कुछ दिन से उनको भी मेरी आदत लग गई है,
शायद शरारत करते करते उन्हें भी मोहब्बत हो गई है...

दुनिया तबाही के किनारे खड़ी है,
एक मैं हूं, मुझे तेरी ही पड़ी है...

Jal Mahal manorath 🙏🏻

epost thumb