इन्तजार एक हद तक - 6 - (महामारी)

by RACHNA ROY Matrubharti Verified in Hindi Social Stories

इसी तरह हकीम पुर गांव अब पुरी तरह से बदल चुका था।रमेश हर रविवार को हकीम पुर गांव में जाता था और वहां अपने अस्पताल का कामकाज का सारा देखरेख करके फिर लौट आते थे।रमेश जब भी उस अस्पताल ...Read More