Meri Bhairavi - 3 by निखिल ठाकुर in Hindi Spiritual Stories PDF

मेरी भैरवी - 3

by निखिल ठाकुर Matrubharti Verified in Hindi Spiritual Stories

3. रहस्यमयी जगह---------------------------------------------------- उस तेजमय प्रकाश पूंज नें विराजनाथ को अपने अंदर समेट लिया और विराजनाथ उस प्रकाश के अंदर खींचता ही चला जा रहा था। विराजनाथ के नेत्र बंद होने के कारण वह कुछ भी देख नहीं पा ...Read More