मैं भारतीयों को जानता हूं, वे मेरे मरने पर आंसू नहीं बहाएंगे

by Jatin Tyagi Matrubharti Verified in Hindi Humour stories

वह अपने अंतिम दिनों में कहा करते थे, 'हिंदुस्तान की हॉकी ख़त्म हो गई है। ख़िलाड़ियों में डिवोशन (लगन) नहीं है। जीतने का जज़्बा ख़त्म हो गया है।' अपनी मौत से दो महीने पहले उन्होंने कहा, 'जब मैं मरूंगा ...Read More