Hindi Books, Novels and Stories Free Download PDF

मिड डे मील
by Swatigrover

हरिहर स्कूल की दीवार पर लिखा पढ़ रहा है ----'शिक्षा पर सबका अधिकार हैं' उसने यह बार-बार ...

मैं तो ओढ चुनरिया
by Sneh Goswami

कोई भूखा मंदिर इस उम्मीद में जाय कि उसे एक दो लड्डू या बूंदी मिल जाय तो रात आराम से निकल जाएगी और वहाँ से मिले मक्खन मलाई का ...

बोलता आईना
by बेदराम प्रजापति "मनमस्त"

(काव्य संकलन) समर्पण - जिन्होंने अपने जीवन को,  समय के आईने के समक्ष,  खड़ाकर,उससे कुछ सीखने - समझने की कोशिश की, उन्हीं के कर कमलों में-सादर। वेदराम प्रजापति मनमस्त ...

विश्वगसघात (सीजन-२)
by Saroj Verma

मनोरमा.... मनोरमा! कहां हो भाई! धर्मवीर ने अपनी पत्नी को पुकारते हुए कहा।। अभी आती हूं जी! जरा सी सांस तो ले लिया करो,बस पुकारते ही जा रहे हो और ...

पहले कदम का उजाला
by सीमा जैन 'भारत'

रामायण और महाभारत के काल से शुरू करें तो हमारे पास अमर, सम्रद्ध साहित्य है। हमारा जीवन कहीं न कहीं इन्हीं दोनों महाकाव्यों से जुड़ा है। या यूँ कहें ...

नैनं छिन्दति शस्त्राणि
by Pranava Bharti

इस बात को अब तो लगभग 24 वर्ष हो गए हैं जब मैं ‘इसरो’ की सरकारी योजना के अंतर्गत ‘अब झाबुआ जाग उठा’ सीरियल का लेखन कर रही थी ...

अवसान की बेला में
by Rajesh Maheshwari

जीवन और मृत्यु की निर्भरता प्रभु इच्छा पर है परंतु मृत्यु के उपरांत भी हमारी स्मृति लोगों के मन में बनी रहे यह हमारे कर्मों पर निर्भर है। जन्म ...

एहसास प्यार का खूबसूरत सा
by ARUANDHATEE GARG मीठी

अरनव ( खुशी को संभालते हुए ) - आराम से बैठो आप यहां पर ....., और खुद का खयाल रखा करो । खुशी - मुझे क्या जरूरत खुद ...

वो खौफनाक बरसात की रात..
by निशा शर्मा

जुहू के हाइट्स अपार्टमेंट के नीचे मीडिया का जमावड़ा लगा हुआ है और चैनल सैवन ट्रुथ की रिपोर्टर मिस शिवानी सिक्का अपने कैमरा पर्सन के साथ तेज बारिश में ...

स्वर्ण मुद्रा और बिजनेसमैन
by Shakti Singh Negi

बहुत समय पहले की बात है. मेरी नई - नई शादी हुई थी. कुछ समय बाद हमें पैसे की कमी पडने बैठ गई. मेरी पत्नी ने एक छोटी सी ...

प्यार का खेल
by निखिल ठाकुर

5 जनवरी 2020 की बात थी तो निखिल अपने दोस्त टाले को उसके नम्बर में मैसेज करता है...क्योंकि निखिल ने उसे कुछ पैसे दिये थे और अब उसे कुछ ...

देहखोरों के बीच
by Ranjana Jaiswal

मैडम,आदमखोर किसे कहते हैं? --उस जीव -जंतु को जो मनुष्य को खाते हैं। -क्या प्रकृति ने उन्हें ऐसा बनाया है? --नहीं,लंबे समय तक भूखे रहने की वजह से वे ...

नौकरानी की बेटी
by RACHNA ROY

राजू दसवीं में पढ़ता था और सबका बहुत ही दुलारा था।राजू को किसी तरह की कोई कमी नहीं थी। उसके घर में दो काम करने वाले थे एक था ...

टापुओं पर पिकनिक
by Prabodh Kumar Govil

आर्यन तेरह साल का हो गया। कल उसका बर्थडे था। इस जन्मदिन को लेकर वो न जाने कब से इंतजार कर रहा था। वो बेहद एक्साइटेड था। होता भी ...

बद्री विशाल सबके हैं
by डॉ स्वतन्त्र कुमार सक्सैना

पंडित विभूति नारायण सर्दियों में क्षेत्र के यजमानों के पास आए थे। उन्‍हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी सांस चलने लगी थी वे ठीक से सो नहीं पाए थे ...

मौत का खेल
by Kumar Rahman

जासूसी उपन्यास मौत का खेल कुमार रहमान कॉपी राइट एक्ट के तहत जासूसी उपन्यास ‘मौत का खेल’ के सभी सार्वाधिकार लेखक के पास सुरक्षित हैं। किसी भी तरह के ...

विशाल छाया
by Ibne Safi

रमेश ने कमरा सर पर उठा रखा था । उसकी आँखे लाल थी मुंह से कफ निकल रहा था । बाल माथे पर बिखरे हुए थे । कमीज़ आगे ...

अवधूत गौरी शंकर बाबा के किस्से
by ramgopal bhavuk

मैं परमश्रद्धेय गुरूदेव स्वामी हरिओम तीर्थ जी के पास एक दो दिन में गुरूनिकेतन जाता रहता हूँ। यह गुरूनिकेतन स्वामी नारायण देव तीर्थजी महाराज की परम्परा का है। उस ...

ताश का आशियाना
by R.J. Artan

सिद्धार्थ शुक्ला 26 साल का नौजवान सरल भाषा में बताया जाए तो बेकार नौजवान। इंजीनियरिंग के बाद एमबीए करके बिजनेस खोलना चाहते हैं जनाब! बिजनेस के तो इतने आइडिया इनके पास ...

बेपनाह
by Seema Saxena

“शुभी सुनो, कहाँ हो तुम ? आओ यहाँ मेरे पास आकर बैठो ।” मम्मी की हल्की सी आवाज उसके कानों में पड़ी। हुंह ! बुलाने दो मम्मी को, मैं नहीं ...

कर्तव्य
by Asha Saraswat

व्यक्ति को अपने जीवन में माता-पिता,भाई -बहन का ध्यान रखना चाहिए; जब शादी हो जाये तो जीवन पर्यंत जीवन साथी का पूरा ध्यान और भरणपोषण करना चाहिए।जब बच्चे हों ...

मे और महाराज
by Veena

समर गढ़ का असीम साम्राज्य।उसके वजीर शादाफ सींग की हवेली मे आज सुबह से कुछ ज्यादा ही हड़बड मची हुई थी।उसने धीरे से अपनी आंखे खोली, " हे भगवान ...

लाल ग्रह - जीवन की खोज
by किशनलाल शर्मा

और  उसके भी आगे बढ़ते कदम ठहर गए।कुछ देर तक वे दोनों दूर खड़े होकर एक दूसरे को देखते रहे।फिर दूर से ही एक दूसरे को इशारे करने लगे।काफी ...

गुनाहों का देवता
by Dharmveer Bharti

इस उपन्यास के नये संस्करण पर दो शब्द लिखते समय मैं समझ नहीं पा रहा हूँ कि क्या लिखूँ? अधिक-से-अधिक मैं अपनी हार्दिक कृतज्ञता उन सभी पाठकों के प्रति ...

अतीत... प्यार की एक कहानी
by PRATIK PATHAK

“दोस्तों पाँच मिनिटमे मीटिंग के लिये रेडी रहिए ” सागर ने अपनी कंपनिके पाँच वरिष्ठ कर्मचारिओको अपनी केबिनमे से आधा बाहर आंके कहा। सागर ,सागर भारद्वाज एक एक्सपोर्ट कंपनिका ...

बिज़नेस टाइकून की लव स्टोरी
by Missamittal

25 मंजिल  की इमारत  में  एक ऑफिस में 22 साल की मशहूर बिजनेस टाइकून कायरा खन्ना गुस्से में खड़ी है उसके सामने उसकी पिए  कांप रही है अब बोलोगी ...

इश्क़ है तुमसे ही
by Jaimini Brahmbhatt

फोन कि रिंगटोन बजती है. ट्रिन..... ट्रिन.... मोबाइल उठते ही सामने से आवाज आने लगती हैं। तुम कहाँ हो? अब तक कहा रहे गये हो? वक्त पर आना भी जिम््मेदारी होती ...

ये उन दिनों की बात है
by Misha

और देखते ही देखते जयपुर सिटी से मेट्रो सिटी हो गया बड़े बड़े मॉल्स, बिल्डिंग्स, मल्टीप्लेक्सेज इत्यादि देखते देखते खड़े हो गए हैं और यहाँ भीड़भाड़ भी बहुत हो ...

टेढी पगडंडियाँ
by Sneh Goswami

टेढी पगडंडियाँ    “ चाची ! ओ चाची ! तुझे भापा बुला रहा है खेत में ट्यूवैल पे । जल्दी जा “ - नाइयों का बिल्लू दहलीज पर खङा ...

हारा हुआ आदमी
by किशनलाल शर्मा

जनवरीआज का दिन बेहद ठंंडा था।पिछले दो दिनो से शीत लहर चल रही थी।आसमान बादलो से ढका हुआ था।आज भी सूर्य देवता के दर्शन नही हुए थे।कल रात बरसात ...

कसम तेरे प्यार की
by Tanya gauniyal

जगहः  अमेरिकाः  एक  हैंङसम   नौजवान  लड़का   भूरी आँखें   जिसमें  किसी   का इंतजार था अमेरिका  का सबसे अमीर   लड़का  या  यु   कहें सबसे   फेमस  बिजनेस मैन जिसके  चर्चे हर जगह ...

अनोखी दुल्हन
by Veena

कौन होगा जिसने अपनी पूरी जिंदगी में भूत पिशाच के बारे मे सुना ही नहीं होगा??? बोहोत कम लोग! नहीं उंगलीयो पर गिने इतने भी मुश्किल से मिलेंगे। पर ...

जीवन ऊट पटाँगा
by Neelam Kulshreshtha

ज़िंदगी होती है बेतरतीब, बड़ी ऊट पटाँग, थोड़ी सी बेढब, थोड़ी सी खट्टी मीठी, हंसी और आँसुओं की पोटली, अकल्पनीय बातें आपके रास्ते में फेंकती आपको बौखलाती हुई, ठगती ...

इन्तजार एक हद तक (महामारी)
by RACHNA ROY

ये कहानी सत्य घटनाओं पर आधारित है आशा करतीं हुं।आप सभी को अच्छा लगेगा। हकीम पुर गांव अब पुरी तरह से कोलेरा महामारी की चपेट में आ गया था ...

कोट
by महेश रौतेला

अच्छी-खासी ठंड है। मैं पैतालीस साल बाद उस मकान में हूँ जहाँ अपने विद्यार्थी जीवन में रहता था। अलमारी खोलता हूँ तो उसमें टका मेरा कोट पड़ा है। कुछ ...

उजाले की ओर
by Pranava Bharti

मित्रों ! प्रणाम  जीवन की गति बहुत अदभुत है | कोई नहीं जानता कब? कहाँ?क्यों? हमारा जीवन अचानक ही बदल जाता है ,कुछ खो जाता है ,कुछ तिरोहित हो ...

तर्ज़नी से अनामिका तक
by Rajesh Maheshwari

उपरोक्त स्वरचित कविताएँ मेरे जीवन का आधार हैं और इनकी भावनाएँ मेरे लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं। मानव अपने जीवन की पहली श्वांस से मृत्यु की अंतिम श्वांस तक संघर्षरत् ...

लव का अलौकिक सप्ताह
by Kirtipalsinh Gohil

Day 1: ROSE DAY "भैया, सुनो एक बात बतानी थी आपको।" लवकेश स्कूल जाने के लिए घर से निकला ही था की सामने पड़ोस में रहते शर्मा परिवार की ...

स्टेट बंक ऑफ़ इंडिया socialem (the socialization)
by Nirav Vanshavalya

यूरो डॉलर का 300 नोट वाला भारी भरकम बंडल कॉन्फ्रेंस टेबल पर जाकर गिरिता है. इसके दूसरे ही क्षण 25महान अर्थशास्त्री कॉन्फ्रेंस में बैठे हुए दिखाई ...

रक्षक
by Kayal King

किताब एक रास्ता   रेवन जो अनाथले में रहता था, उसके माता पिता बचपन से ही  मर गए थे , उसकी उम्र 19 साल थी  उस को किसी ने   एक ...

सास-बहू...एक रिश्ता उलझा सा।
by निशा शर्मा

ओफ्फो! चीकू बेटा हर जगह तुमने ये अपना सामान बिखेरकर रखा हुआ है। अरे बेटा कम से कम अपनी किताब निकालते समय तो थोड़ा ध्यान दिया करो। पता है, ...

दूरी न रहे कोई
by किशनलाल शर्मा

"क्या लेंगे आप?"तुम कौन हो?" दरमियाने  कद की युवती  को  अपने साामने खड़ा देखकर राजन बोला था।"मैं इस बार मे नौकरी करती हूँ"वह औरत बोली,"वेटर हूँ।"औरत होकर बार मे ...

वो अनकही बातें
by RACHNA ROY

सड़क के बीच में तेज बारिश में वो खड़ी हो कर ना जानें किसका इंतज़ार कर रही थी। बहुत सारे सवाल उठ रहे थे शालू के मन में। मुझे इस ...

गुम हूं तुम्हारे इश्क़ में
by ARUANDHATEE GARG मीठी

एक लड़की आलथी - पालथी मारकर , टी - शर्ट और हैरम पहने , अपनी स्टडी डेस्क की चेयर पर बैठी , बेचैनी से अपने लैपटॉप की स्क्रीन को ...

इश्क़ जुनून
by Mehul Pasaya

नमश्कार दोस्तो हम एक बार और नई कहानी लेकर आगाये है तो चलो प्रारंभ करते है ...

होस्टल
by Rahul Vyas

रात 8.30 बजे 23 वर्षीय अंकित जयपुर से महाराजा रणजीत सिंह कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड मैनेजमेंट के लिए सड़क पर चल रहा था। मूल रूप से वडोदरा के रहने ...

वैश्या वृतांत
by Yashvant Kothari

देह व्यापार.विवेचन इनसाइक्लोपेडिया ब्रिटानिका के अनुसार देह व्यापार का अर्थ है मुद्रा या धन या मंहगी वस्तु और षारीरिक सम्बन्धों का विनिमय। इस परिभापा में एक षर्त ये भी ...

भूत बंगला
by Shakti Singh Negi

मेरा नाम अश्वनी सिंह है। मैंने 10 साल तक अलग-अलग जगहों पर छोटे-बड़े कई काम किए। इसके बाद मैं कुछ धन एकत्र कर पाया। होटल लाइन, बैंक लाइन, टीचिंग ...

डॉ अब्दुल कलाम की जीवनी
by Mrityunjaya Dikshit

15 अक्टूबर 1931 के तमिलनाडु के रामेश्वरम में जन्मे भारतरत्न राष्ट्रपति डॉ कलाम का पूरा नाम अबुल ज़ाकिर जैनुल आबेदीन अब्दुल कलाम था अब्दुल कलाम के जीवन पर ...

Chandragupt
by Jayshankar Prasad

चन्द्रगुप्त (सन् 1931 में रचित) हिन्दी के प्रसिद्ध नाटककार जयशंकर प्रसाद का प्रमुख नाटक है। इसमें विदेशियों से भारत का संघर्ष और उस संघर्ष में भारत की विजय की ...

मंटो की कहानियां
by Saadat Hasan Manto

सआदत हसन मंटो का जन्म- 11 मई, 1912 को समराला, पंजाब में हुआ था। आप कहानीकार और लेखक थे। मंटो ने फ़िल्म और रेडियो पटकथा लेखन व पत्रकारिता भी ...

चाणक्य
by Vinay kuma singh

इतिहास के पन्नो से… ( महान व्यक्तित्व ) भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र के पहले विचारक - चाणक्य !

छत्रपति शिवाजी
by Mrityunjaya Dikshit

छत्रपति शिवाजी का राज्याभिषेक और उनका कुशल नेतृत्व मृत्युंजय दीक्षित महाराष्ट्र केे ही नहीं अपितु पूरे भारत के महानायक वीर छत्रपति शिवाजी महाराज। एक अत्यंत महान कुशल योद्धा और ...

Steve Jobs
by Kamini Gupta

Inspiration we get from Steve Jobs life

चरित्रहीन
by Hanif Madaar

औरत के इंसान होने के हक़ की बात करना भी उसके चरित्रहीन होने का प्रमाण घोषित हो जाता हो उस समाज में औरत की अस्मिता से जुड़े सवाल शायद ...

दीलीप कुमार
by Khushi Saifi

Filmy Duniya Ke famous actor Dilip Kumar Sahab Ki Zindagi Ke Kuch Ansune Pehlu.