इश्क़ जुनून - 6 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories Free | इश्क़ जुनून - 6

इश्क़ जुनून - 6

" हा ये सही रहेगा विवान बेटा इस बात पे हम भी अग्री करते है "

" ओके सो फिलहाल तक हम अपना एन्जॉयमेनट कंटिन्यू रखे क्या "

" हा भाई जरुर "

लोकेशन चेंज...

" प्रिया चलो तो उस स्टोर पे जाते है कुच ना कुच खरीद लेंगे "

" हा दी चलो "

" विवान अब चलो तो थोडा घूम कर आते है चलो अंकल जी "

" हा चलो... "

" अरे हेल्लॉ मिस्टर गाडी ध्यान से चलाना ठीक है अगर गाडी कही ऐक्सीडेंट करा दी तो तुम्हारी खैर नही "

" आप बे फ़िकर रहिये "

" प्रिया चलो तो हो गया ना तुमहरा "

" हा दी ले लिया अब चलो "

" अरे भाई थोडा धीरे चला ले गाडी "

" अरे रिलैक्स कुच नही होगा "

" आआआआआआ... "

" अरे अब किसको गाडी ठोक दी तुने गाडी रोको रोको गाडी "

" प्रिया........ "

" अरे अंकल वहा ऐक्सीडेंट हुआ है चलो "

" हा चलो और हैल्प करो उंन दोनो की "

" हेल्लॉ सब दूर हठिये तो चलो "

" प्लीज आप इनको देखीये ना क्या हो गया प्लीज कुच करो "

" जी रुकीये "

" लक्स भाई एम्बुलेंस को बुलाओ "

" जी भाई जरुर, हेल्लॉ एम्बुलेंस प्लीज यहा पुरानी बाज़ार मे ऐक्सीडेंट हुआ है आप आ जाओ "

" आप उनको सोने मत देना और हा हवा लगने देना और ज्यादा भिड़ मत करना "

" जी सर, चलो अब भिड़ मत करो और थोडी सी हवा आने दो पसेँट को "

" अगर इसको कुच हो गया तो हम जी नही पायेंगे कसम से "

" अरे डोंट वरि कुच नही होगा आपकी सिस्टर को "

" अरे विवान तुम्हे कैसे पता ये दोनो एक दुसरे की सिस्टर है "

" अरे भाई आप ही देखीये ना शकल से और इनके रिएक्शन से तो दोनो सिस्टर ही लग रही है एक दुसरे की "

" हा ये भी है "

" अरे हठिये एम्बुलेंस आ गये दूर हठिये जगह दिजीये "

" आपका बहुत बहुत शुक्रिया जो आपने टाईम पे एम्बुलेंस बुला ली आप्का ये एहसान कभी नही भुलेंगे "

" अरे कोई बात नही, अगर आप कहे तो हम आपके साथ आये हॉस्पिटल तक क्या है वहा थोडी कम्युनिटी चाहिये होगी आपको तो "

" हा चलो आपकी महेर्बानी होगी हम पे "

" हा चलो "

सम टाईम लेटर...

" अरे लक्स बेटा ये विवान चला तो गया है पर हमे भी जाना चाहिये चलो "

" हा चलो "

" पर पहले पुलिस को बुलाओ और इस गाडी वाले को पक्डाऔ "

" हा रुको "

" हेल्लॉ पुलिस स्टेशन प्लीज आप पुरानी बाज़ार मे आ जाये एक कार वाले ने ऐक्सीडेंट कर दिया एक लड्की का और अब वो हॉस्पिटल मे है सो आप जल्दी आये "

" ठीक है आप उंन कार वालो को पकडे रहना हम अभी आते है, हवल दार गाडी निकालो हमे जाना होगा ऐक्सीडेंट हुआ है "

" जी सर जय हिन्द "

" कहा है तो कार वाले "

क्या ये ऐक्सीडेंट सुन कर प्रिया और तनु की मॉम सह पायेगी ये हाद्साह और तनु को माफ कर देगी इस हाद्सेह के लिये  जाने के लिये आगे पढते रहिये

                                  पढ्ना जारी रखे...

Rate & Review

Mehul Pasaya

Mehul Pasaya Matrubharti Verified 8 months ago

Hardas

Hardas 8 months ago