इश्क़ जुनून - 7 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories Free | इश्क़ जुनून - 7

इश्क़ जुनून - 7

" ये रहे सर "

" प्लीज सर हमारी कोई गलती नही है गलती ना इस ड्राईवर की है इसने ऐक्सीडेंट किया है "

" नही नही सर ऐक्सीडेंट हमारी वजह से नही हुआ है ये इनकी वजह से हुआ है "

" लेकिन ड्राईवर तो आप है ना "

" हा सर गाडी मे ही चला रहा था पर जो बोला बोल कर रहे थे वो ये थे "

" सर गलती ना इन दोनो की है सो आप इनको पुलिस स्टेशन ले जाइये और अंदर कर दिजीये "

" हा पहले आप यहा इस फॉर्म मे साइन कर दिजीये और हा कल आपको पुलिस स्टेशन आना पडेगा थोडे वक़्त के लिये ठीक है आ जायेगा टाईम पे "

" जी जरुर "

" और तुम दोनो चलो अब पुलिस स्टेशन जो बोलना हो वहा बोलना "

लोकेशन चेंज...

" हेल्लॉ डॉक्टर अब उनकी तबियत कैसी है ठीक है ना वोह "

" जी फिलहाल कुच कह नही सकते पर आप फिक्र मत करिये हम कोशिश कर रहे है आप यहा वेट करिये "

" प्लीज आप इनको बोलो ना की मेरि बहेन को ठीक कर दे प्लीज "

" हा आप रोइये मत डॉक्टर ने कहा ना की ठीक कर देंगे तो वो कर देंगे और फिर नही कर पायेंगे तो भी उनको ठीक करना ही पडेगा "

" डॉक्टर आये डॉक्टर मेरि बहेन ठीक हो जायेगी ना "

" हा अब वो पहले से बेहतर है "

" थैंक यू डॉक्टर "

" अगर थैंक यू ही बोलना है इस भाई सहाब को बोलिए जो सही समय पर एम्बुलेंस को बुला लिया अगर थोडी सी भी देर हो जाती तो जान बच्चा ना मुश्किल हो जाता "

" थैंक यू आपने जो हमारे लिये किये है वो हम जिन्दगी भर नही भुल पायेंगे "

" अरे कोई नही अगर इन्सान इन्सान के काम नही आयेगा तो क्या काम फिर इंसानियत का खैर अब हम चलते है "

" अरे रुकीये आप जिसकी जान बचाय है उससे तो मिल कर जाईये "

" हा ठीक है मिल लेते है "

" हा आइये "

" अरे रुकीये ज़रा सुनिये हमे ना अब भाई के पास जाना होगा हम फिर कभी मिल लेंगे ओके "

" अरे पर मिल के चले जाना आप इतनी भी क्या जल्दी है आपको "

" हम बहुत जल्द मिल लेंगे आप फिक्र मत करो ठीक है पर अभी हमे जाना होगा "

" ठीक है जाओ तो फिर पर जब वो पूछेगी की मेरि जान किसने बचाय और मे आपका नाम लुंगी और आप नही होंगे तो हम फिर क्या बोलेंगे उसको "

" बस आप ये बता दीजियेगा की वो फिर कभी मिल लेंगे ऐसा बोल कर चले गये ओके "

" ठीक है पर वापस मिलना जरुर "

" जी जरुर "

तो आपने जाना की कैसे उन कार वालो को पुलिस अरेस्ट कर के लजाती है और बाद मे डॉक्टर आके बताते है की प्रिया की तबियत ठीक है पहले से और फिर तनु विवान को प्रिया से मिलने के लिये बोलती है पर वो मना कर देता है अब आगे ये जाना है की ये दोनो मिल पायेंगे विवान और प्रिया बस जाने के लिये पढते रहिये "

पढ्ना जारी रखे

Rate & Review

Usha Dattani Dattani
Hardik Kumar

Hardik Kumar 7 months ago

Mehul Pasaya

Mehul Pasaya Matrubharti Verified 8 months ago