इश्क़ जुनून - 8 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories Free | इश्क़ जुनून - 8

इश्क़ जुनून - 8

लोकेशन चेंज...

अरे अंकल और भाई आप वहा कहा जा रहे है यहा आइये

अरे समीर बेटा हम आपको ही ढूंड रहे थे हॉस्पिटल मे आप नही मिले उन दो लडकियो को हम ने पुछा तो उन्होने बताया की तुम वहा से निकाल गये उस लड्की से मिले बिना ऐसा क्यू

बस ऐसे ही चला आया अंकल अब चलो वैसे भी उस लड्की से मिलना वगेरा होता रहेगा

ओहो देखो तो अंकल अभी से मिलने की बात हो रही है क्या बात है भाई

हा बेटा बात सोचने वाली है भाई उनकी मदद करना और फिर मिलने का वादा कर आना और वो भी एक ही मुलाक़ात मे

अरे ऐसा कुच नही है बस ये तो हमारा फर्ज बनता था की मुस्किल वक़्त मे अगर कोई मुश्किल मे हो तो उसकी मदद करना चाहिये तो हमने की बस और कुच नही है और जैसा आप समझ रहे है वैसा कुच भी नही है ठीक है

हा अब तुम हमारी बात तो मानने से रहे सो खुद नोटिस करना की आगे क्या है

नही नही अंकल मे ऐसे कैसे किसी के बारे मे सोच रख सक्ता हू और मे तो रहा सिंपल सा इन्सान मुझ पर ये बदनामी का ढोंग लगेगा तो मुझ से बरदास्त नही होगा

अरे बेटा प्यार मे तो लोग अपनी जान तक गवाह देते है और तुम बदनाम होने से डरते हो और फिर कहा ऐसा लिखा है की तुम उसे प्यार करोगे तो तुम बदनाम हो जाओगे नही नही बेटा हर किसी की तक़्दीर मे ऐसा नही होता पर थोडा मुश्किले आती है

हा पर अभी ये सोच ना किसी के लिये भी फायदे मन्द नही है क्यू की हम तो किसीको भी ऐसी नज़रों से नही देखा और देखना भी नही हम तो हमारी अम्मी जान जहा कहेगी वहा से ही शादी करेंगे बस क्यू की हमारा मानना है की मा से ज्यादा कोई भी प्यार नही कर सकते

हा हम समझ सकते है अभी तुम्हारे मन मे ये सारी बाते डालना बेकार है जब तुम इस हालत मे गुजरो गे ना तक सब पता चल जायेगा सो वेट ऐण्ड वॉच

ओके देखते है आगे क्या होता है क्यू लक्स भैया

हा ये तो आने वाला वक़्त ही बता सकता है की क्या होगा तुमहरा समीर

कुच नही होगा मे जैसा हू ना वैसा ही रहूंगा ओके कुच नही बदलेगा इ विल चेलेंज यू टू

ओके एक्सेप्टेड सो ये सारे मोमेंट तुम्हारी लाइफ मे आयेंगे क्यू अंकल जी सही कहा ना हमने

हा बेटा और ये चेलेंज हमे भी मंजूर है और हम लक्स बेटा से सहमत है

ओके गाइज़ सो अब चलो अब हमे जाना चाहिये

हा चलो

कुच देर बाद...

डॉक्टर इन्को होस कब तक आयेगा

जी बस अब ये सिर्फ 5 मिनट के बाद

जी ठीक है थैंक यू

ये देखीये वक़्त से पहले होस आ गया इनको अच्छी बात है

दी मे यहा कैसे

हा तुमहरा ऐक्सीडेंट हुआ था इस लिये आपको हॉस्पिटल मे लाये है पर अब सब ठीक है

हमे मॉम के पास जाना प्लीज

हा थोडा आराम कर लो फिर चलेंगे ठीक हे

पढ्ना जारी रखे

Rate & Review

Mehul Pasaya

Mehul Pasaya Matrubharti Verified 7 months ago

Hardas

Hardas 7 months ago