बिज़नेस टाइकून की लव स्टोरी - 3 in Hindi Love Stories by Missamittal books and stories Free | बिज़नेस टाइकून की लव स्टोरी - 3

बिज़नेस टाइकून की लव स्टोरी - 3

जय श्री राम दोस्तों🌹🌹🙏🙏 मुझे उम्मीद है आपको यह कहानी जरूर पसंद आ आ रही होगी.  यह कहानी  मेरी ओरिजिनल कहानी है किसी की कॉपी या डुप्लीकेट नहीं है.

बिज़नेस टाइकून की लव स्टोरी3

अभी तक आपने पढ़ा कि
कोई लड़का कायरा  को हॉस्पिटल पहुंचाता है ,
काय़रा को उसकी बातें सुनकर उस पर थोड़ा शक होता है
उस लड़के से बातें  पूछती भी है लेकिन वह लड़का कोई जवाब नहीं देता ,
तभी कमरे में  नर्स आती है और कायरा को बताती है कि ""वह लड़का उसकी कितनी चिंता करता है
फिर  वह आगे बताती है कि..........

अब आगे✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️
नर्स बोलना शुरू करती है
""  कल जब आपका दोस्त आपको हॉस्पिटल लेकर आया था   तब आपकी तबीयत बहुत खराब थी ,
आपको बहुत छोटे लगी थी.  आपके दोस्त को आपकी बहुत फिक्र थी .
जब आपका दोस्त आपको स्ट्रेचर पर लेकर  यहां आया  तो डॉक्टर की हॉस्पिटल में  कुछ मांगों को लेकर स्ट्राइक थी  फिर आपके दोस्त ने डॉक्टर   को  आपके इलाज के लिए कहा
लेकिन  स्ट्राइक  की वजह से डॉक्टर ने 🚫🚫मना कर दिया था आपके ट्रीटमेंट के लिए और आपके दोस्त  ने आप के इलाज के लिए डॉक्टर से बहुत मिन्नतें  की ओर  बहुत रिक्वेस्ट की  लेकिन डॉक्टर ने फिर भी मना कर दिया  था, ट्रीटमेंट के लिए
तो उसने गुस्से में डॉक्टर से कहा,,,
डॉक्टर प्लीज इसका इलाज कर दीजिए  आप जो भी मुझसे मांगेंगे मैं आपको दे दूंगा किसी भी हाल में इस को बचा लीजिए
तभी हमारे सीनियर  डॉक्टर वहां पर आए  उन्होंने भी गुस्से में  आपके दोस्त को कह दिया कि हमें  10 करोड़ चाहिए बोलो दोगे
10 करोड़ 
कायरा ने हैरान होते हुए का
जी
नर्स ने धीरे से कहा
फिर ,,,
  फिर ,क्या किया,,, कायरा ने पुछा
फिर क्या आपके दोस्त ने डॉक्टर से कहा '' 10 करोड़ क्या आप  20 करोड़ ले लीजिए पर इसको बचा लीजिए
लेकिन हमारे सीनियर डॉक्टर ने कहा तुम हमें 50 करोड़ भी दे दोगे तब भी हम इसका इलाज नहीं करेंगे आज हमारी सब की स्ट्राइक है.
फिर आपके दोस्त ने गुस्से में अपने पीछे से गन निकाली  और  सीनियर डॉक्टर की तरफ  तान दी और गुस्से में बोला या तो तुम मरोगे या तो  इसकी जान बचाओगे .
आपके दोस्त ने गन से डॉक्टर्स को धमकाया और आप का इलाज करवाया..
जब आप खतरे से बाहर हो गई तब उसने इस  हॉस्पिटल को 50 करोड़ डोनेशन दी और  आपके दोस्त  ने सभी डॉक्टर से माफी भी मांगी.
आपको जब तक होश नहीं आया वह सारी रात आपके पास बैठा रहा .
एक पल के लिए भी नहीं   हिला आपके पास से 
आप बहुत लकी है
जो आपको ऐसा दोस्त मिला है
बातें करते-करते ही नर्स ने कायरा कि सारी पट्टियां बदल दी .
कायरा तो इन सब बातों को सुन के शौक  लगा
कायरा के मन में हजारों सवाल आने लगे   ''आखिर कौन है यह इंसान ''
इसने मेरे लिए इतना कुछ क्यों किया ??
मैं तो इससे पहले कभी मिली भी नहीं!!!
यह लड़का जरूर मुझसे कुछ छुपा रहा है???
KAIRA  को तो कुछ समझ नहीं आ रहा था
इन्हीं सवालों के बीच  पता ही नहीं चला , kaira ko नर्स कब  बाहर  चली गई
.......................................................
उधर किसी होटल के कमरे में   तीन लोग  आपस में बहस कर रहे थे,
बातों बातों में ही,
""""छटाक ""
उनमें से एक लड़की ने  एक लड़के पर हाथ उठा🖐 दिया  और गुस्से में बोल  रही थी तुमसे एक काम भी ठीक से नहीं होता ,,
तुम्हारी एक गलती की वजह से हमारा सारा  प्लेन फेल हो गया.  देखो वह अभी तक जिंदा है..
तभी उस लड़के ने उस लड़की को बाहों में लेते हुए कहा .....तुम चिंता मत करो एक प्लान फेल हो गया तो क्या हुआ **दूसरा प्लान बना लूंगा **जिससे वह  बच नहीं पाएगी , ऐसा प्लान कि उसकी कंपनी उसकी शान और शौकत सब खत्म हो जाएगा , और फिर हमारा बदला पूरा हम दोनों मिलकर उसका  जीवन नर्क से भी बदतर बना देंगे 
तभी तीसरे लड़के ने कहा  लेकिन ऐसा तुम क्या करोगे  वो प्लान भी फेल हो गया तो फिर ,
तुम उसकी चिंता मत करो,  लेकिन उस प्लेन को  पूरा करने में मुझे कुछ और लोगों की भी जरूरत पड़ेगी
अब होगी असली  तबाही  शुरू उस,, Kaira खन्ना की
और तीनों जोर जोर से हंसने लग जाते हैं...
😆😆😆

इधर हॉस्पिटल में

कायरा अभी इन्हीं सवालों के बीच  फसी  हुई थी कि वह लड़का  फिर कमरे में आ  गया..
उसके हाथ में खाने का सामान था कुछ जूसफ्रूट और ना जाने क्या-क्या लेकर आया था.. वह
वह लड़का कायरा से नजरे चुरा रहा था .शायद थोड़ी देर पहले हुए हादसे की वजह से  शायद embarace फील कर रहा था.
लेकिन इधर कायरा ,
वह तो जैसे गुस्से में पागल हुई  पड़ी थी,
जैसे ही उसने उस लड़के को देखा वह तो बॉब की तरह उस पर फट गई  और ढेर सारे सवाल दाग दिए
उसने गुस्से में  पूछा..
आखिर कौन हो तुम?
क्या चाहते हो मुझसे??
तुमने डॉक्टर से झूठ क्यों बोला कि तू मेरे दोस्त हो  जबकि मैं तो तुमसे पहली बार मिल रही हूं
तुमने डॉक्टर को क्यों धमकाया
लेकिन वह लड़का अभी भी शांति से खड़ा था
अब चुप क्यों हो बोलते क्यों नहीं??
तुम जरूर मुझसे कुछ छुपा रहे हो !!!
जरूर तुम्हारा कोई प्लान होगा??
ओ हो अब मुझे समझ आ रहा है 
आखिर इंडिया की बेस्ट सेकंड कंपनी की  मालकिन हूं मैं
,,तुमने मेरी जान इसलिए बचाई कि तुम मेरा फायदा उठा सकूं !!
कहीं  कहीं तुम मेरी कंपनी को तो नहीं हड़पना चाहते हो ,,अब मुझे साफ साफ दिख रहा है 
मेरे ऊपर ₹50 करोड़ लाकर तुम  मेरी कंपनी से  50 करोड़ से भी ज्यादा पैसा कमाना चाहते हो,
तुमने सोचा होगा अकेली लड़की है  .अभी-अभी ही सं सगाई  टूटी है , थोड़ा प्यार से बात करूंगा तो जरूर  मेरे  हाथ  में आ जाएगी  , ,
लेकिन अफसोस
जो तुम सपने देख रहे हो ना, वह कभी पूरे नहीं होंगे
आज तक इस दुनिया में कोई किसी पर बेवजह  एहसान नहीं करता...
जरूर तुम्हारी भी कुछ प्लानिंग रही होगी..
कायरा अभी भी अपनी ही धुन में कुछ ना कुछ बोल रही थी उस लड़के को
लेकिन वह लड़का  शांति से सारे ताने और सवाल सुन रहा था।
उसके आंखों के किनारों पर आंसू आ गए , लेकिन उसने चुपके से उन्हें साफ कर लिया
और उसने धीरे से बोलना शुरू किया
तुम्हें जो समझना है समझो 
लेकिन मैंने ऐसा कुछ भी नहीं किया जो तुम समझ रही हो  ना मैं तुम्हारी कंपनी चाहता हूं ना तुम्हारे पैसे
मैंने तुम्हारी मदद सिर्फ इंसानियत के नाते की
बोलते बोलते उसका गला भर आया,
उसने खुद को संभालना और बाहर जाने लगा और एकदम से पीछे मुड़कर बोला  ""ध्यान रखो अपना""
""तुम्हारी PA  को फोन कर दिया है जब वह आएगी मैं चला जाऊंगा""
?"मैं अभी भी बाहर बैठा हूं""  मेरा इंटेंशन तुम्हें दुख देने का नही था
  वह तो तुम मुझे रास्ते में घायल मिली थी',, तो इंसानियत के नाते मैं तुम्हें हॉस्पिटल  ले आया,
बाकी तुम्हें जो समझना है समझो ,
अगर तुम्हें मुझे सामने देखकर तकलीफ हो रही है तो चिंता मत करो
PA के आने के बाद मैं चला जाऊंगा फिर कभी तुम्हारे सामने नहीं आऊंगा,
इतना कहते ही वह लड़का जल्दी से कमरे के बाहर चला गया.
इधर कार अभी भी गुस्से में  काप  रही थी 
वह अभी जो हुआ उसके बारे में सोच सोच कर परेशान होने लगी . उसके दिल और दिमाग  में जंग छिड़ गई
दिल कह रहा था वह लड़का अच्छा है जिसने  मेरी जान बचाई ,लेकिन दूसरी तरफ दिमाग कह रहा था कोई भी इंसान किसी की मदद फ्री में नहीं करता जरूर ,कोई उसका इंटेंशन रहा होगा,  उसका इन बातों को सोच समझकर सिर दर्द करने लगा,
करीब 5 मिनट के बाद ही उसके रूम का दरवाजा खुला  उसे लगा वह लड़का होगा पर ,
जैसे ही कुछ बोलने के लिए आंखें घुमाई   तो सामने उसकी पी ए  थी
वह  बहुत  परेशान और हड़बढ़ाई लग रही थी,
वह जल्दी से काय़रा के पास पहुंची ,
मैम आप ठीक है?  आपको ज्यादा तो नहीं लगी ?
लेकिन कायरा  उसका ध्यान तो अभी भी उस लड़के की  बातों पर था , उसने पिए को बीच में ही रोकते हुए कहा  "वह लड़का कहां है?
मैम वही लड़का जो आपको हॉस्पिटल में लेकर आया था
हां, वही लड़का
मैं  वह तो चला गया
तुमने उसका नाम पूछा?"  KAIRA ने मयूसी से पूछा
जी मैम
मैम उसने अपना नाम   ranveer   बताया और  उसने कहा
क्या कहा??   
Kaira ने जल्दी से पूछा
मैम वह  वह
अब बोलोगी कुछ
  PA ने  डरते डरते कहा मैम उन्होंने कहा कि""  अपनी मैम को कह देना  की  बिना किसी की बात सुने गुस्सा नहीं करना चाहिए , दूसरों को भी बोलने का मौका देना चाहिए
उन्हें कहना दूसरों की बात भी सुन लेनी चाहिए  सभी उनके पैसा या बिजनेस  को  नहीं हड़पना  चाहते
वह थोड़ा गुस्से में थे मैम जब  उन्होंने यह बातें कहीं
  कायरा को गिल्टी फील होना शुरू हो गया
Kaira Ne शांति से अपनी आंखें बंद कर ली और लेट गई  फिर उसने धीरे से पीए को कहा ""
ऐसा करो, अभी तुम जाओ , मैं कुछ दिनों के लिए ऑफिस से ब्रेक ले रही हूं , अगर कुछ इंपॉर्टेंट हो तो कॉल करके बता देना,  kaira को तो तभी याद आया कि उसने अपना फोन तो तोड़ दिया था ,
ऐसा करना मुझे एक फोन  दे देना . उस पर ही मुझसे कांटेक्ट में रहना,,
जी मैम PA NE Kaha
अभी तुम जाओ..kaira n kha
मैम वह" पी ए ने डरते होये कहा
बोलो""  Kaira n kaha
मैम ऑफिस के लोगों को जब आप के एक्सीडेंट के बारे में पता चला तो,  जो लोग आपसे मिलना चाहते हैं क्या मैं उनको.....
"ठीक है" , उन सभी को एक साथ में बुला लेना शाम को  लेकिन मेरी गैर हाजरी में ऑफिस का कोई भी काम बिगड़ ना नहीं चाहिए  समझे😎😎
"जीमेम "P
नाउ यू कैन लीव
सुनो,,,कायरा ने इकदम कहा 
पिया जाते जाते एk दम रुक गई,
ऐसा करो ,उससे ranveer के बारे में सारी इनफार्मेशन पता करो,
कहां रहता है? क्या करता है ?मुझे जल्द से जल्द उसकी डिटेल्स चाहिए
ओके मैम
टेक केयर 
इतना कहते ही पीए बाहर की तरफ चली गई
.....
कायरा को अब ना तो ऑफिस की टेंशन थी ,
ना किसी काम की,  ना अपने फ्रैक्चर की ,,उसे तो बस  टेंशन थी  , कि कहीं उसने गुस्से में आकर कुछ  ranveer को ज्यादा तो नहीं बोल दिया..
उसे अपने किए पर पछतावा हो रहा था  कि उसने गुस्से में आकर  ranveer को हर्ट कर दिया ,...
क्या कर दिया मैंने  मुझे जल्द से जल्द उससे एक बार बात करनी होगी,
कायरा खुद से ही बातें करने में लगी थी....
लेकिन उसे ढूंढे कैसे उसे सिर्फ उसका नाम पता था,,,
अभी वो इस हालत में भी नहीं थी, कि बाहर जाकर उसके बारे में पता कर सके,
वह बस जल्दी से जल्दी से हॉस्पिटल से निकलना चाहती थी .
शाम के 

स  का सारा स्टाफ पिए के साथ रूम में खड़ा था  ,सभी  kaira का हाल-चाल पूछ रहे थे  ,थोड़ी देर बाद  बातें करने के बाद सारा स्टाफ वापस चला गया ,जाते वक्त पीए ने कायरा को एक न्यू फोन दिया  जिसमें न्यू सिम था ,
सभी लोग बाहर चले गए ,अब कमरे में सिर्फ कायरा थी
तभी किसी ने कमरे का दरवाजा खोला...
 कायरा  ने दरवाजे की तरफ देखा  तो
इंदरजीत थे,
इंदरजीत कायरा के ऑफिस में ही पीएन का काम करते थे . जब से कायरा ने ऑफिस खोला था  तब से वह  वहीं पर काम करते हैं.
वह धीरे से अंदर आए,
और कायरा को देखकर  बोले
"नमस्ते कायरा मैम"
कायरा ने भी उन्हें नमस्ते का जवाब दिया
उन्होंने  कायरा के हाथ में एक थरमस पकड़ा दी  और धीरे से kaha   कायरा मैम
"मैं आपके लिए अदरक वाली चाय लेकर आया हूं,  मुझे पता है आपको हॉस्पिटल  की चाय अच्छी नहीं  लग रही होगी ,इसलिए मैं आपके लिए चाय लेकर आया हूं,,
  थैंक्यू काका,,,  मैंने आपको कितनी बार कहा है मुझे मैम मत बुलाया करिए ,
आप मुझे बेटी भी तो कह सकते हैं ,!!
बात तो kaira मैम सही है, लेकिन मैं आपको सिर्फ कायरा मैं म ही कहूंगा
चलो ठीक है, जैसे आपकी मर्जी.
  कायरा ने जल्दी से  थरमस का ढक्कन खोला और चाय पीने लग गई,
थोड़ी बातों के बाद ,
इंद्रजीत काका भी वापस चले गए,
.......................................

क्या मोड़ लेगी अब  कायरा की जिंदगी   जानिए अगले भाग में  तब तक जुड़े रहे मेरे साथ..
क्या kaira दोबारा मिल पाएगी उस लड़के रनवीर  को ....

कायरा को हॉस्पिटल में रहते रहते 3 हफ्ते  होने को हो गया थे,
इसी बीच उसने Ranveer के बारे में  मैं भी पता करने की बहुत कोशिश की, 
लेकिन वह तो ऐसे ही गायब हुआ, जैसे कभी उससे मिला ही नहीं,
कायरा रोज पिए को फोन करके उससे रणबीर के बारे  मैं पूछती,
लेकिन हमेशा एक ही जवाब आता,
मैम अभी तक उसका कुछ पता नहीं चला है ,
कायरा  जवाब सुनकर खुश दुखी हो  जाती.
कायरा को हॉस्पिटल में रहते हुए  3 हफ्ते हो गए थे, वह ऑफिस का जरूरी काम हॉस्पिटल में ही बैठकर कर देती थी,


  कायरा अभी Crutches की  मदद से थोड़ा-थोड़ा चलने लगी थी ,कायरा घर जाने के लिए डॉक्टर की परमिशन लेने के लिए डॉक्टर के ऑफिस में गई,
"may I come in sir""
कायरा ने ऑफिस केअंदर जाने से पहले पूछा,
  "आइए आइए"मिस  कायरा,
डॉक्टर ने धीरे से कहा,
"प्लीज सित डाउन ,"डॉक्टर ने कहा,
कायरा वहीं पर आराम से कुर्सी पर बैठ गई,
तभी डॉक्टर ने पूछा,
तो बताइए मिस कायरा  कैसे आना हुआ,
सर मुझे बहुत दिन हो गया हॉस्पिटल में रहते रहते अभी मैं ठीक हूं ,
मैं यहां पर और नहीं रह सकती मुझे घर जाने की परमिशन चाहिए प्लीज मुझे डिस् चार्ज कर दीजिए,
"लेकिन कायरा अभी आपके पैर का प्लसतर नहीं खोला है"
डॉक्टर ने चिंतित स्वर में कहा,
"सर मैं यहां पर और नहीं रह सकती अभी मैं थोड़ा थोड़ा चलने लगी हूं सर ",
प्लास्टर की चिंता मत कीजिए ,मैं अपना पूरा ख्याल  रखूंगी.
लेकिन कायरा,,
प्लीज डॉक्टर मुझे घर जाने दीजिए,
चलो ठीक है ,
अगर आप इतना इंसिस्ट करती हैं,
तो मैं आपको डिस्चार्ज कर दूंगा, लेकिन फिर भी आपको अपना ख्याल रखना पड़ेगा और दवाइयां टाइम पर लेनी होगी,
जी डॉक्टर थैंक यू,
इतना कहते ही वह डॉक्टर के रूम से बाहर आ गई और अपने रूम में आकर सामान इकट्ठा किया और हॉस्पिटल के बाहर निकल गई ,
हॉस्पिटल के बाहर आते ही उसे अच्छा महसूस होने लगा, बहुत दिनों के बाद उसे ताजी हवा महसूस करने को मिली थी ,वह थोड़ी देर हॉस्पिटल के बाहर पर लगी बेंच पर  बैठ गई ,कायरा को बाहर बैठकर अच्छा लग रहा था, धीमी धीमी हवा चल रही थी ,आसपास गमलों में  फूल लगे हुए थे,
  कायरा ने एक लंबी सांस ली और आंखें बंद करके वहीं पर बैठ गई,
अभी थोड़ी देर में बैठी ही थी कि उसे किसी की आवाज सुनाई दी,
मैम मैम,,
यह उसके ड्राइवर की आवाज थी,
 कायरा  ने जल्दी से आंखें खोली और फिर से वही पुराने अवतार में आ गई,
"मैम गाड़ी आ गई है","ड्राइवर ने धीरे से कहा"
ठीक है,  कायरा ने ड्राइवर से कहाः
ऐसा करो ,यह सामान पड़ा है, इसे जाकर डिग्गी में रख दो,  काय़रा ने नीचे पड़े सामान की तरफ इशारा करते हुए ड्राइवर से कहा"
"जी ",मेम साहब
काय़रा धीरे-धीरे क्रचइस की मदद से अपनी गाड़ी की तरफ चलने लगी. एक पल के लिए उसे लगा कि उसे कोई देख रहा है,
कायरा ने चारों तरफ गर्दन घुमा कर देखा, लेकिन उसे कोई भी नहीं दिखा, 
कायरा अपनी गाड़ी में आकर बैठ गई और ड्राइवर को  चलने का इशारा कर दिया,
थोड़ी देर बाद कायरा की नजर कार में पड़े न्यूज़पेपर की तरफ  गई,
कायरा ने न्यूज़पेपर को उठा लिया और उसे पढ़ने लग गई ,
तीन चार पन्ने पढ़ने के बाद
उसकी नजर सटॉक एक्सचेंज मार्किट पर गई,
कायरा ने सभी कंपनियों की शेयर वैल्यू देखनी शुरू की,  उसकी नजर अपनी कंपनी के के ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के शेयर वैल्यू पर गई,
काय़रा की कंपनी की शेयर वैल्यू अभी भी ठीक-ठाक थी, कायरा की कंपनी अभी भी दूसरे नंबर पर थी,
और पहले नंबर पर थी ,
शर्मा ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज,
काय़रा ने एक लंबी सांस ली और अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के बारे में सोचने लगी,
थोड़ी देर बाद
"मेम साहब "घर आ गया
 कायरा की गाड़ी उसके घर के बिल्कुल सामने रोड के दूसरी तरफ खड़ी थी,
"ड्राइवर यहां क्यों गाड़ी रोक ली गाड़ी घुमा कर घर के पास लेकर जाओ,"  कायरा ने कहा
"नहीं तो  मुझे  तो रोड क्रॉस करना पड़ेगा "काय़रा ने चढ़ते हुए ड्राइवर से कहा,
"तुम्हें पता नहीं मेरे पैर में चोट लगी है तुम्हें क्या लगता है,
मैं "इस हालत में रोड क्रॉस करु",कायरा ने गुस्से से कहा
ड्राइवर ने धीरे से काय़रा को कहाः
""मेम साहब, गाड़ी दूसरी तरफ ले जाने के लिए आगे 3 किलोमीटर तक जाना पड़ेगा,
वहीं पर एक मोड़ है जहां से गाड़ी  मूड सकती है,
कायरा ने गुस्से में कहा ," तो पीछे कोई मोड़ नहीं था, जिससे तुम गाड़ी मोड़ के घर के पास लेकर जा सकते थे ""
""मैम उस मोड़ पर तो काम चालू है इसलिए मैंने वहां से गाड़ी दूसरी तरफ नहीं की ,,""
और फिर उधर से आते वक्त हमारी गाड़ी रॉन्ग साइड पर होती, "" ड्राइवर ने डरते  हुए बोला

"क्या मुसीबत है"
  कायरा ने गुस्से में कहा,
काय़रा फिर धीरे से गाड़ी के नीचे उतरी. और रोड के एक साइड पर  खड़ी रही,
फिर कायरा ने एक लंबी सांस ली और चलना शुरू किया उसने रोड के दोनों तरफ देखा ,तो रोड एकदम खाली थी,
उसने पीछे मुड़ते हुए ड्राइवर से कहा
 "ड्राइवर समान ले आओ"
"जी मेम साहब" ,ड्राइवर ने कहा
फिर कायरा धीरे-धीरे रोड क्रॉस करने लगी, अभी वह कुछ  आधी सड़क ही क्रॉस कर पाई थी, कि दूसरी तरफ से तेज रफ्तार में गाड़ी उसके सामने आ गई ,कायरा एकदम से घबरा गई ,
हड़बड़ाहट के मारे उसके हाथ से crutches भी नीचे गिर गए ,
उसका दिमाग तो जैसे काम करना ही बंद कर गया , वह तो इतना डर गई थी,
उसी जगह बेसुध सी खड़ी रही,
दूसरी तरफ से गाड़ी उसकी और भी नजदीक आ रही थी kaira ने अपनी आंखें बंद कर ली उसके दिल की धड़कन बहुत तेज तेज चल रही थी,
दूसरी तरफ से ड्राइवर कायरा को पीछे हटने के लिए  चिल्ला रहा था. लेकिन कायरा वह तो ऐसे खड़ी थी जैसे किसी ने उसे गम से चिपका दिया हो,
गाड़ी जब उसे टक्कर मारने ही वाली थी कि तभी किसी ने  उसकी बाजू पकड़ी और अपनी तरफ खींच लिया,
लेकिन काय़रा अभी भी कहां होश में थी, उसकी तो डर के मारे हालत खराब हुई पड़ी थी ,उसकी सांसें बहुत तेज तेज चल रही थी,
उसने खुद को संभाला तो किसी की सांसे उसे अपने चेहरे पर महसूस हो रही थी, कायरा ने जैसे ही पीछे होने कोशिश की तो उसके पैरों ने उसका साथ नहीं दिया और वह  गिरने वाली थी, कि किसी के मजबूत हाथों ने उसे पकड़ लिया
और अपनी तरफ खींच लिया ,
काय़रा उस इंसान के सीने से जा लगी, उस इंसान की धड़कन ए बहुत जोर जोर से धड़क रही थी. उस इंसान का एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरा हाथ उसकी बाजू पकड़े हुए,
तभी उस इंसान की आवाजा आई""
"तुम ठीक हो"
उस आवाज को सुनकर कायरा को तो यकीन ही नहीं हुआ,
Kaira ने धीरे से अपना चेहरा ऊपर किया तो उसकी आंखों में चमक आ गई,
यह तो वही लड़का ranveer था ,जिसने उसकी एक्सीडेंट होने पर जान बचाई थी,
Kaira  तो बेसुध सी होकर उसके चेहरे को ही निहार रही  थी,
कायरा तुम ठीक हो,
उस रणबीर की फिर से आवाज आई,
लेकिन हमारी काय़रा वह तो बस उसे निहारने में लगी हुई थी,
  रणवीर आगे कुछ बोल पाता तभी kaira अपनी उंगली उसके होठों पर रख दी,
रनवीर को तो ऐसे लगा जैसे किसी ने उसके शरीर में से करंट निकाला हो, 
उसे कुछ अजीब सा महसूस होने लगा,
रनवीर की आंखों में कुछ तो कशिश थी कि कायरा उसे एकटक देख रही थी,
अब ना उसे दर्द, ना अपना डर ,ना कोई घबराहट,
कुछ भी महसूस नहीं हो रहा था ,वह तो बस सब कुछ भूलकर रनवीर के चेहरे मैं खोई हुई थी,
उसकी नजर रणवीर के होठों पर गई.
रनबीर के लिप्स कायरों को बहुत खूबसूरत और अट्रैक्टिव लग रहे थे ,ना जाने क्यों कायरा के हाथ अपने आप उसके गालों पर जाकर रुक गए और धीरे से वह अपने होंठ रनवीर के होठों के करीब ले गई,
इधर बेचारे रनबीर की तो जैसे धड़कन ए बुलेट की ट्रेन जैसे चल रही ठीक थी ,
कायरा तो अपने पूरे होशो हवास ही खो बैठी थी, वह तो सब कुछ भूल भूलाकर अपने होंठ उसके होंठों पर  रखने ही वाली थी कि किसी ने रनवीर को जोरदार थप्पड़ मार दिया,
थप्पड़ की आवाज से कायरा होश में आई, उसने जैसे ही पीछे घूम के देखा तो वहां पर गुस्से मैं ऋषि खड़ा था,
कायरा रनवीर से थोड़ी दूर हुई और कुछ बोलने ही वाली थी ,कि ऋषि ने रनवीर का कॉलर पकड़ लिया और बोलने लगा,
""तेरी हिम्मत कैसे हुई साले ,कायरा के इतने करीब जाने की उसको किस करने की,""
""इतने टाइम तक वह मेरे साथ थी तभी मैंने अपनी लिमिट क्रॉस नहीं की और तू",
हरामखोर ,""तू उसे किस करने वाला था तेरी यह जोरऊत""
इतना बोलते ही ऋषि ने रनवीर को एक और थप्पड़ मार दिया,
लेकिन रनवीर चुपचाप Kaira की तरफ देख रहा था,
""उसकी तरफ क्या देख रहा है मेरी तरफ देख""
ऋषि ने जैसे आग उगलते हुए रनवीर को बोला,

ऋषि आगे कुछ बोल पाता कि तभी कायरा ने गुस्से में आकर उसे एक पंच मार दिया और वो पंच उसके मुंह पर लगा, 
शायद ऋषि ने सपने में भी नहीं सोचा था कि कायरा ऐसा कुछ करेगी,
मुक्का पडने से ऋषि थोड़ा पीछे हो गया और उसकी पकड़ रणवीर के कोलर से छूट गई,
अभी ऋषि कुछ कर पाता उससे पहले ही कायरा एक और मौका उसके मुंह पर मार दिया,
और उसे गुस्से में बोलने लगी,
तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई,
रनवीर का कॉलर पकड़ने की,
उसे इतना कुछ बोलने की
""तुम होते कौन हो"",
मैं किसी के साथ कुछ भी करूं, तुम्हारा उससे कोई लेना-देना नहीं ,
"कायरा ने गुस्से में आकर ऋषि को घूरते हुए बोला"
ऋषि के मुंह से अब खून निकलने लगा ,,
लेकिन कहते हैं ना कुत्ते की पूंछ कभी सीधी नहीं हो सकती वही हाल ऋषि का था,
वह कहां चुपचाप खड़ा रहने वाला था,,
उसने थोड़ा डरते हुए बोलना शुरू किया,
Kaira  तुम ऐसा नहीं कर सकती,
तुम इसे किस कैसे कर सकती हो करो तुम इतने करीब कैसे जा रही हो इसके,,
देखो कायरा,
मैं जानता हूं तुम  मुझसे नाराज हो, लेकिन हम दोनों बैठ कर बात कर सकते हैं ना,
मैं अपनी गलती मानता हूं ,आई एम सॉरी
"आई एम सॉरी कायरा"
जब तुम किसी और के इतना करीब जाती हो तो मुझसे नहीं देखा जाता प्लीज यार ऐसा मत करो,,
  कायरा ने उससे कुटिल मुस्कान देते हुए कहा""
ओ अच्छा, तो तुम्हें लगा कायरा खन्ना से तुम माफी मांगोगे और वह तुम्हें माफ कर देगी
एक बात कान खोलकर सुन लो"",
मैं सब कुछ बर्दाश्त कर सकती हूं, लेकिन धोखा नहीं
और रही बात किसी के करीब जाने की तो वह मैं डिसाइड करोगी,
मैं किसके साथ रहूंगी और कैसे रहूंगी उस पर तुम्हारा कोई हक नहीं है,
जिस दिन मैंने तुम्हारे साथ सगाई थोड़ी थी, उस दिन सारे हक भी तोड़ दिए थे ,
मैंने जो तुम्हें दिए थे
तुम कहते हो ना कि तुम मुझे किसी के साथ देख नहीं सकते,
तो फिर तो तुम्हें यह जरूर देखना चाहिए
इतना बोलते ही,
काय़रा ने रनवीर की बाजू पकड़ी और उसे अपनी तरफ खींचा,
उसके चेहरे को घुमाया और
अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और उसे पैशनेटली किस करने लग गई,

रनवीर तो बस आंखें फाड़ कर कायरा को देख रहा था.
इधर ऋषि जलती आंखों से उन दोनों को देख रहा था.
और उसने गुस्से में दोनों को देखते हुए बोला
""यह तुमने अच्छा नहीं किया कायरा""
और गुस्से से वहां से निकल गया,







#Missamittal
#.................🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻
क्या मोड़ लेगी अब  कायरा की जिंदगी   जानिए अगले भाग में  तब तक जुड़े रहे मेरे साथ





मुझे आस है आप मुझे प्यार और सपोर्ट jrror करेंगे 🙏 🙏धन्यवाद

आपको मेरी kahani कैसी लगी चाहे अच्छी लगी हो चाहे बुरी लगी हो,
कुछ लोग कहानी पढ़कर  ऐसे ही छोड़ देते हैं ,ना कोई रेटिंग देते हैं ,ना कुछ  समीक्षा  लिखते हैं,
मैं उन लोगों से बस यही कहना चाहूंगी कि  प्लीज ऐसे मत किया कीजिए  ,आपको कहानी जैसे भी लगे उसके बारे में जरूर बताएं  क्योंकि जब तक मुझे पता ही नहीं चलेगा कि कहां पर कमी है मैं उसे पूरा नहीं कर सकूंगी  ,अगर आपको अच्छी लग रही है तब भी लिखकर बताएं

Rate & Review

Aman Shankhwar

Aman Shankhwar 2 months ago

aap ki kahani acchi hai

Suresh

Suresh 6 months ago

ashit mehta

ashit mehta 6 months ago

Pooja Parmar

Pooja Parmar 7 months ago

vasudev gondaliya

vasudev gondaliya 7 months ago