इश्क़ जुनून - 15 in Hindi Love Stories by Mehul Pasaya books and stories Free | इश्क़ जुनून - 15

इश्क़ जुनून - 15

अरे गुस्सा क्यू रहे हो तुम

गुस्सा ना करे तो क्या करे प्यार करे क्या तुम लोगो को ची ची शर्म आनी चाहिये आप लोगो नाक कटवा के आगये

क्या बोला तुम्हे तो

अरे रुको रुको मे तो मजाक कर रहा था बस ऐसे ही बोल दिया आप तो खाम खा गुस्सा हो गये शान्ती शान्ती

हा अगर ज्यादा होसियारि की तो मशल के रख देंगे

अरे तुम लोग जाओ वरना यही तुम लोगो की मे जान ले लूंगा

हा भाई जा रहे है


लोकेशन चेंज

विवान जी यहा से ना इस शहर का हर एक भाग नज़र आ जाता है हम डेली शाम को यही पे आजा ते दी और मे

हा ये तो सच मे कमाल का लोकेशन है यहा से इस सारी जगहों का नज़ारा देख ने को मिल जाता हैलक्स भाई और अंकल हम घुमने आये थे ना इस शहर मे तो हमे इनके पास आना चाहिये था ये हमे सब दिखा देते है ना प्रिया जी

हा ये विवान भाई ये बात तो सही बोली आपने

हा लक्स भाई क्यू की ये बिल्डिंग इतनी उचि है की क्या बताये यहा से सब दिख जाता है सची

मॉम भी चत पर आती है पर वो लिफ्ट से आती है उनको चिडिया छडी नही जाती ना इस लिये

अच्छा कोई नी वो लिफ्ट से आयेंगे तो बेहतर रहेगा

अच्छा प्रिया जी और तनु जी हम चलते है अब काफी वक़्त हो चुका है ठीक है

विवान विवान जी रुको...

अरे प्रिया विवान......

वॉट द हैल यार आह किसी दिन मर जायेंगे यार ऐसे तो

विवान और प्रिया तुम लोगो ने डिसाइड किया था ना की तुम लोग क्लोज़ नही आओगे. ये तुम लोगो की क्लोजिंग की वजह से होता है

पर क्या करे दी भुल जाते है याद नही रह्ता ना अपने ज़ज्बातो मे

कंट्रोल यार विवान ऐसे तो अपनी हड्डी तुड़वा लेगा अगर इतना ही लगाव हो गया है प्रिया जी से फिर मिलने आजा ना पर ध्यान मिलो स्पर्श का ध्यान रखना अगर तुम लोगो सिर्फ उंगलियाँ भी एक दुसरे को स्पर्श हुए तो समझो तुम इतने दूर फेके जाओगे अपने आप

मम्मी बचाओ मुझे कोई आह ओह गोड

विवान जी आप ठीक तो है ना

प्रिया स्टॉप देयर डोंट स्विप यौर बॉडी नही तो फिर्से मिशाइल  की तरह उद जाओगे

ओह छिट हद है यार

हा विवान ठीक है बस थोडी छोट आये है पर उनको चुने की कोशिश मत करो अभी पता है ना कितनी बार तुम लोग मरते मरते बचे हो

विवान क्या है यार ये, लक्स बेटा इ थिंक हमे विवान को किसी डॉक्टर के पास लेजाना पडेगा दिखाने के लिये की ऐसा क्यू होता ये लोग एक दुसरे को टच करते है तो

हा अंकल जरुर

हा और प्रिया को भी दिखाना जरुरी है साथ ले चलते है इसको भी

हा चल

अरे नही इसकी कोई जरुरत नही है अंकल

हा अंकल जी हम बिल्कुल ठीक है

जैसे की आपने जाना एक बार फिर टकरार हो गये विवान और प्रिया के चुने के कारन और फिर  अंकल और लक्स और तनु तय करते है की इन दोनो को किसी डॉक्टर के पास लेजाना चाहिये तो आगे क्या होगा क्या ये लोग डॉक्टर की वजह से फिर ब्लास्ट होंगे जान्ने के लिये पढते रहिये इश्क़ जुनून

Rate & Review

Mehul Pasaya

Mehul Pasaya Matrubharti Verified 2 months ago

Krishvi

Krishvi Matrubharti Verified 3 months ago