Hame tumse pyar hai - 1 in Hindi Love Stories by Harshali books and stories PDF | हमे तुमसे प्यार है - 1

हमे तुमसे प्यार है - 1

बारिश का मौसम था । बाहर जोर दार बारिश हो रही थी । और उसी बारिश में रेवा अपनी जान बचाने के लिए भागे जा रही थी। उसके पीछे ५/६ लोग पड़े हुए थे जिनके नजरों मैं हवस साफ साफ दिख रही थी। रेवा इतनी थक चुकी थी की अब धीरे धीरे अपने होश खो रही थी। भागते भागते रेवा का पैर नीचे एक पत्थर से टकरा गया वो गिरने ही वाली थी की किसी ने उसे थाम लिया और अपनी बाहों मैं भर लिया।
जैसे ही उन आदमियों ने उस शक्स को देखा सभी के पसीने छूटने लगे और अपनी जान बचाकर वहा से भाग गए । .
(वो इंसान और कोई नही बल्कि बिजनेस टायकून अनय रावल था जो की मोस्ट एलिजिबल बैचलर था । अनय एक एरोगेंट , गुस्सेलूं किस्म का इंसान था जिसके लिए किसीकी भी फीलिंग्स कोई मायने नही रखती थी , उसे सिर्फ और सिर्फ अपने पैसे और इगो से प्यार था)
अनय ने एक नजर रेवा की और देखा । रेवा अब अनय की बाहों मैं बेहोश हो चुकी थी ।
अनय ने अपने बॉडी गार्ड्स को ऑर्डर देते हुए कहा – उन मैं से कोई भी बचना नहीं चाहिए ! I want complete information !
अनय के ऑर्डर्स को फॉलो करते हुए बॉडीगार्ड्स उन आदमियों के पीछे भागने लगे ।
अनय ने रेवा को अपने गोद मैं उठाया और अपने आलीशान विला मैं ले गया। सभी सर्वेंट्स अनय को हैरान भरी नजरो से देखे जा रहे थे क्योंकि उन लोगो ने इतने सालो में पहली बार किसी लड़की को अनय के साथ और इतने करीब देखा था। अनय रेवा को अपने बेडरूम में ले गया और बेड पर लिटा दिया । रेवा इतनी खूबसूरत थी की एक बार मैं ही कोई भी उसका दीवाना बन जाए । रेवा के गीले बाल जो की बारिश में भीग चुके थे वो रेवा के चेहरे पर आ रहे थे। पानी की कुछ बूंदे रेवा के ओंठो पर अभी भी ठहरी हुई थी । ठंड की वजह से रेवा का पूरा शरीर कांप रहा था।
अनय बगल के सोफे पर बैठा और रेवा को देखकर ड्रिंक करने लगा । रेवा को देखते देखते अनय पूरी 2 बोतल पी गया । रेवा को देखकर अनय के ओंठो पर एक डेविल स्माइल आ गई । अनय अपने लड़खड़ाते कदमों के साथ रेवा के पास बैठ गया और उसे निहारने लगा । अनय नशे की हालत मैं था उस वजह से वो खुद को रोक नही पाया।
।अनय रेवा की ओर झुका उसने अपने ओंठो से हल्के से रेवा के ओंठो को छुआ और कमरे की लाइट्स ऑफ कर दी।
अगले दिन थकावट की वजह से रेवा की आंख सीधे शाम को खुली। जब रेवा की नींद खुली तब उसने अपने सिर मैं तेज दर्द महसूस किया । उसके पूरे शरीर मैं दर्द हो रहा था। रेवा को कल की रात धुंधली धुंधली सी याद आने लगी कल रात के बारे मैं सोचकर ही रेवा की सांस उसके गले में अटक गई। उसने अपने आप को मिरर मैं देखा और अगले ही पल उसके आंखो से आसू बहने लगे।
रेवा जोर जोर से रोने लगी । एक रात ने उसकी पूरी जिंदगी बदल दी थी। उसे अपने आप पर ही चीड़ आ रही थी ।
तभी बेडरूम का दरवाजा खुला और अनय रूम के अंदर आया। जब रेवा ने अनय को देखा तो उसकी आंखे खुली की खुली रहे गई ।
रेवा ने चिल्लाते हुए कहा – आप ???
अनय रेवा के करीब गया और कहा – गुड इवनिंग मिस रेवा ! पहचाना मुझे ? मुझे देखकर कुछ याद आया ??
रेवा ने नफरत भरी नजरो के साथ अनय की ओर देखते हुए कहा – आपने मेरे साथ ये सब क्यूं किया ? क्या बिगाड़ा है मैने आपका ? कल रात आपने मेरे साथ .......
अनय ने रेवा की बात काटते हुए कहा – एक मिनिट let me clear two things पहेली तो कल रात मैने तुम्हे उन आदमियों से बचाया ! और दूसरी बात कल रात तुम बिग चुकी थी कपड़े गीले हुए थे वैसे ही सोती तो ठंड लग जाती इस लिए ........ अनय के बात को काटते हुए रेवा ने कहा – इसलिए , इसलिए आपने मेरे कपड़े बदले आपको जरा भी शर्म नही आई ऐसी हरकत करते हुए और पता नही क्या क्या किया होगा आपने मेरे साथ !!
अनय ने कहा – शर्म की क्या बात है इस मैं ?
रेवा ने अनय की कॉलर पकड़ते हुए कहा – आप ये इतने कैजुअली कैसे बोल सकते है ? आपके सीने मैं दिल नहीं है क्या ? आप कितने हवसी है अनय ! छी!! कल रात ये सब करने से पहले आपने एक बार भी नहीं सोचा की मेरे दिल पर क्या बीतेगी ।
अनय ने मन मैं सोचा – what rubbish! मैं और हवसी ! I think इसे misunderstanding हुई है जहा तक मुझे याद है कल रात मैने इसके साथ कुछ भी नही किया था ।
रेवा ने अनय के कानो में चिल्लाते हुए कहा – अब चुप क्यूं है आप ! एक लड़की को अकेले देखा नही की नियत बदल जाती है मर्दों की!
रेवा की ये बाते सुनकर अनय ने गन निकाली और रेवा के माथे पर लगा दी । रेवा का तो बस दिल बाहर निकलना बाकी था ।
अनय ने गुस्से भरी निगाहों से देखते हुए कहा – तुम बोलती बहुत हो , इसके आगे एक शब्द भी बोली तो यही दिमाग में बंदूक की सारी गोलियां ठोक दूंगा। कॉलर छोड़ो मेरा ! ! !
रेवा ने अनय के कॉलर को छोड़ दिया और अपनी नजरे झुकाली ।
अनय ने रेवा के चेहरे पर उंगली घुमाते हुए कहा – तो रेवा ! देखो वैसे तो तुम सुंदर क्यूट सीधी साधी लड़की हो लेकिन तुमने मेरा इगो हर्ट कर दिया वो भी कॉलेज में सबके सामने !! थप्पड़ मारा था ना तुमने मुझे ?तुम खुद को समझती क्या हो यार ?! तुम्हे तो मैं ऐसे जाने नहीं दूंगा , टॉर्चर करना तो बनता है ना ! अब तुम यही रहोगी इसी विला मैं मेरे साथ , यहां से भागने की सोचना भी मत अगर चालाकी करने की कोशिश की तो तुम्हारी बहन दिल्ली में गई है ना स्टडीज के लिए ? तुम्हारी बहन प्रिया को .......
रेवा ने अनय के सामने हाथ जोड़ते हुए कहा – आपकी दुश्मनी मेरे साथ है ना तो आप मेरी बहन को क्यों इस सब में खीच रहे है ? प्लीज उसे छोड़ दीजिए आप मैं आपकी हर बात मानूंगी !
अनय ने रेवा से दूर होते हुए कहा – अभी तक तुम्हारी बहन को कुछ किया नहीं है लेकिन मेरी नजर है उस पर , तुम्हारी एक चालाकी तुम्हारी बहन की जिंदगी पर हावी हो सकती है ।
मेरा इगो हर्ट करने की कीमत तो तुमसे चुकाऊंगा , वेल इसके नीचे वाले फ्लोर पर तुम्हारा रूम है मैने सामान रखवा दिया है ! भूख लगी होगी ना तुम्हे अब सीधा डिनर ही करो और सो जाओ कल सुबह मेरे साथ कंपनी आना है तुम्हे !

Show some love in comment box ☺️


Rate & Review

Hitesha Patel

Hitesha Patel 2 months ago

Indu Beniwal

Indu Beniwal 2 months ago

Mehak Roop

Mehak Roop 2 months ago

ketuk patel

ketuk patel 2 months ago

Daanu

Daanu Matrubharti Verified 3 months ago