Hame tumse pyar hai - 10 in Hindi Love Stories by Harshali books and stories PDF | हमे तुमसे प्यार है - 10 - रेवा की खूबसूरती

हमे तुमसे प्यार है - 10 - रेवा की खूबसूरती

एक हफ्ते बाद :
रेवा की चोट अब पूरी तरह से ठीक हो चुकी थी। रेवा किचन मैं अनय के लिए जूस बना रही थी , उसके खुले बाल खिड़की सी आती हुई हवा से उड़ कर बार-बार उसके गालों को चूम रहे थे। रेवा बार बार अपने कंधे से उन्हें पीछे करने की कोशिश करती ।

वही कुछ दूर खड़ा अनय एक टक रेवा को ऐसे करते देखे जा रहा था । रेवा इतनी खूबसूरत दिख रही थी की एक पल के लिए अनय भी उसी मैं खो गया। उसने अपने कदम रेवा की और बढ़ाए और किचन के सर्फेस पर बैठकर उसे घूरने लगा।
इस सबसे अनजान रेवा जूस बनाने मैं बिजी थी । तभी रेवा के फोन पर एक नोटिफिकेशन आता है । रेवा अपना फोन ऑन करके देखती है । उसे किसी unknown नंबर से मेसेज आता है। उस मेसेज मैं लिखा होता है – हेलो रेवा अक्षत हियर !
ओह तो ये अक्षत का नंबर है ! रेवा झट से अक्षत का नंबर अपने फोन मैं सेव कर लेती है।
अक्षत फिर से एक मेसेज भेजता है जिसे पढकर रेवा के ओंठो पर एक स्माइल आ जाती है । जिस मैं लिखा होता है," तुम्हारी प्रोफाइल पिक्चर बड़ी प्रीटी है ! यू आर लुकिंग एडोरेबल!

पीछे बैठा अनय ये सब देखे जा रहा था। वो अपनी जगह से उठा और रेवा का फोन उसके हाथो से छीनकर उसकी चैट पढ़ने लगा।
अनय का ऐसा बिहेवियर रेवा को बिलकुल पसंद नही आया। उसने अपना फोन छीनने की कोशिश करते हुए कहा – अनय आप मैं मैनर्स नाम की कोई चीज नही है क्या ? 🤨ऐसे किसी का भी फोन लेकर उसकी पर्सनल चैट्स नहीं पढ़ते , फोन दीजिए मेरा ! रेवा ने उछलते हुए कहा ।

शट अप ये मेरा घर है , मेरे घर मैं कोई मुझे प्रवचन दे ये मुझे पसंद नही है 😠", अनय ने कहा और चैट्स रीड करने लगा।

चैट्स रीड करने के बाद उसने रेवा का फोन स्विच ऑफ कर दिया और रेवा के करीब जाने लगा। जैसे जैसे अनय एक एक कदम आगे आता रेवा एक एक कदम पीछे चली जाती । रेवा पीछे दीवार से टकरागई। अनय ने उसे घेरते हुए कहा – मुझे एक बात बताओ तुम्हारा दिमाग सच मैं काम नही करता क्या ? 😠उस दिन तो कहे रही थी की मेरी नजर लोगो को पहचानने में कभी धोका नही खाती तो इस समय तुम्हारी आंखे काम नहि कर रही क्या ? वो अक्षत तुम्हारे साथ फ्लर्ट करने की कोशिश कर रहा है और तुम हो जो उसे इतने बड़े बड़े रिप्लाई दे रही हो ! देखो वो लड़का कुछ ठीक नही लग रहा मुझे , तुम उससे दूर रहो।

आपकी प्रोब्लम क्या है अनय ?🤨 में मेरी पर्सनल लाइफ मैं कुछ भी करू उससे आपको क्या ? 😤आप अपना काम कीजिए ना ! में आपकी बीवी नही हूं जो आप मेरे पर्सनल लाइफ मैं इंटरफेयर कर रहे है !😤 और आपको किसने कहा की वो लड़का ठीक नही है ! अच्छा लड़का है वो डिसेंट है । और वो सिर्फ मुझे कॉम्प्लीमेंट दे रहा था इसे फ्लर्ट करना नही कहते समझे आप 😤! जूस रखा है पी लीजिए रेवा ने गुस्से से कहा और अनय को धक्का देकर अपने रुम में चली गई ।

पता नही ये मेरी बात क्यूं नही मानती इसकी प्रोब्लम क्या है यार ! 🙄 ये मेरा गुस्सा ही डिजर्व करती है इसे प्यार से बोली बात तो समझ नही आती ", अनय बड़बड़ाया और जूस पीने लगा ।

कुछ देर बाद ऑफिस में –
अक्षत और रेवा एक फाइल के बारे मैं कुछ डिस्कस कर रहे थे। केबिन मैं बैठा अनय उन दोनो को देखकर कुछ सोच रहा था। अनय के सामने बैठे अनूश्री और कार्तिक ने अनय की नजर को फॉलो करते हुए बाहर की ओर देखा।

तुम्हे रेवा को उस अक्षत के साथ देखकर जलन हो रही है क्या ? 😜 कार्तिक ने अनय को छेड़ते हुए कहा।

अनय ने तिरछी नजरों से कार्तिक की ओर देखा और कहा – 😒तू जैसा सोच रहा है वैसा कुछ नही है । रेवा अब मेरी जिम्मेदारी है यार ! उसे समझ नही आ रहा वो अक्षत अच्छा लड़का नहीं है , उसके इंटेंशन ठीक नही है लेकिन रेवा को ये बात समझ ही नही आ रही। 🤦🏻

हां मैंने भी नोटिस किया है ! लेकिन सीरियस बात नही है । अक्षत का क्रश है रेवा पर । दो दिन का अट्रैक्शन जल्द ही खत्म हो जायेगा , फिलहाल काम पर फोकस करो ", अनुश्री ने कॉफी का एक सिप लेते हुए कहा ।

कार्तिक और अनुश्री अनय के साथ काम के बारे मैं डिस्कस कर रहे थे ।
लेकिन अनय की नजर बार बार बाहर बैठे अक्षत और रेवा पर जाकर रुक जाती। 👀

अनुश्री ने कार्तिक से कहा – क्या इसका दिल पिघल रहा है ?? 💘
कार्तिक – डोंट नो ! लेकिन लग तो वैसा ही रहा है !

कुछ देर बाद अनय ने रेवा को केबिन मैं बुलाया । अनय ने बिना एक नजर रेवा की ओर देखे कहा – आज मीटिंग है मुझे किसी भी हालत मैं ये प्रोजेक्ट पाना ही है ! कोई गड़बड़ की ना रेवा तो मुझ से बुरा कोई नही होगा देख लेना !
आप एक ही बात कितनी बार बताएंगे मुझे ! समझ आता है मुझे और कोई गड़बड़ नहीं होगी। आपने मुझे यह बताने के लिए बाहर से अंदर बुलाया? पता नहीं आपको मुझे परेशान करने में क्या मजा आता है। काम कर रही थी ना मैं बाहर ! रेवा ने चिड़ते हुए कहा।
Ohh... मुझे पता है तुम इतनी चिढ़ क्यों रही हो।तुम बाहर अक्षत से बात कर रही थी ना , मैंने तुम दोनो को डिस्टर्ब जो कर लिया । But let me tell u one thing में तुम्हें यहां काम करने लाया हूं खुद की लव स्टोरी बनाने नहीं । तो इस सब चक्कर से बाहर आओ और काम पर फोकस करो । ऑफिस खत्म होने के बाद अकेले घर आ जाना , क्या है ना तुम्हें अक्षत के साथ थोड़ा सा टाइम मिलेगा लेकिन ऑफिस टाइम में यह सब गुटर गू नहीं चलेगी।
अनय की यह बात सुनकर रेवा का गुस्सा सातवें आसमान में पहुंच गया । अनय बिना कुछ सोचे समझे रेवा को सुनाएं जा रहा था ।
रेवा ने चिड़ते हुए कहा – अनय स्टॉप , में आपको कुछ बोल नहीं रही तो आप मुझे सुनाए जा रहे है कब से ! में और अक्षत काम के बारे मैं डिस्कस कर रहे थे । आप मुझ पर शक कर रहे है ?
हां कर रहा हूं शक ! और शक क्या मुझे तो पूरा यकीन है की तुम इस अक्षत के पीछे पागल हो चुकी हो ! सही गलत का फर्क नही समझता तुम्हे ! तुम्हे दिख नहि रहा उसकी नजर कैसी है ? या फिर देख कर भी अंधेका कर रही हो ? अच्छी तरह जानता हूं तुम जैसे लड़कियों को...अनय इसके आगे कुछ बोल पाता तभी रेवा ने गुस्से से चिल्लाते हुए कहा – अब बस और नही !! आप ये सब सोचते है बारे मैं ? इतनी बुरी इमेज है मेरी आपके नजरो में ? आपके साथ बहस करने मैं कोई पॉइंट नही है ! और अब प्लीज मुझ से बात मत कीजिए ..मुझे ऐसे इंसान के साथ बिल्कुल बात नही करनी जो मेरे बारे मैं ऐसा सोचता है ! रेवा ने कहा और गुस्से से वहा से चली गई। .


Rate & Review

ketuk patel

ketuk patel 2 months ago

Akanksha Sahu

Akanksha Sahu 2 months ago

Reshma Patel

Reshma Patel 3 months ago

ashit mehta

ashit mehta 3 months ago

Preeti G

Preeti G 3 months ago