Turned to stone…. in Hindi Short Stories by Piyush Goel books and stories PDF | पत्थर के हो गये….

पत्थर के हो गये….

दो दोस्त कुछ खोजते हुए जंगल में आगे बढ़ते जा रहे थे. अचानक जंगल में चार चोरों ने उन दोनो दोस्तों को घेर लिया , सब कुछ देने के लिए कहा उनमें से एक दोस्त चालाक था, तुरंत बोला भाइयों हम भी तो वो ही काम करते हैं जो तुम कर रहे हो…अगर आप लोगों को मेरी योजना पसंद हो तो हमारे साथ चलो.उन चोरों में से एक चोर बोला क्या हैं तेरी योजना …. देख भाई मैं तो दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति को ढूँढ रहा हूँ बार बार चोरी करने से अच्छा एक बार में ही काम तमाम चोरों को बात जम गई चारों चोर हो लिये उन दोनो के साथ…. आगे बढ़ते जा रहे थे भूख ज़ोरों से लगी थी … दूर जंगल में एक झोपड़ी दिखाई दीं उनमें से एक बोला चलो हो गया खाने का इंतज़ाम … झोपड़ी से एक महात्मा निकल कर आते हैं … महात्मा ने जैसे ही उनकों देखा समझ गए कोन लोग हैं ये … महात्मा पहुँचे हुए थे …. आओ आओ भूख लग रही आप लोगों को मैं जानता हूँ मैने आप लोगों के लिए खाने और सोने दोनो का इंतज़ाम कर रखा हैं … सभी खाना खा कर सोने चले गए … रात को एक चोर सोचने लगा महात्मा ज्ञानी हैं … सुबह होते ही महात्मा ही बता देंगे और हमारे सामने सबसे अमीर आदमी को खड़ा कर देंगे … सुबह होते ही चारों चोर उन दोनो दोस्तों को बिना बतायें महात्मा के पास जाकर बोले हमें सबसे अमीर आदमी की तलास हैं और ये काम आप आसानी से कर सकते हो … जैसे ही उन्होंने महात्मा से बोला महात्मा एक दम पत्थर के हो गए …. ये सब दोनो दोस्त देख रहे थे … वो चालक दोस्त तुरंत बोला ये आप लोगों ने क्या कर दिया …. ये ही तो थे सबसे अमीर व्यक्ति इन्हीं के पास था सब कुछ … आप लोग भी कुछ नहीं सब काम बिगाड़ दिया … धीरे धीरे सेवा करते अपना बनाते … एक दिन में ही सब कुछ लेना चाहते हो जो सम्भव नहीं हैं … हो गया सब काम ख़राब चारों चोर हाथ पर हाथ रख कर बैठ गए … अब क्या करे चतुर दोस्त बोला … अभी भी बहुत कुछ हैं हमारे पास … एक काम करते हैं इस पवित्र पत्थर को ले चलते हैं … और एक जगह स्थापित कर के पूजा करते हैं … एक ना एक दिन हमें मिल जायेगा सबसे धनी व्यक्ति … ऐसा सोचते हुए वे चारों चोर उस पत्थर की पूजा कर रहे हैं …पियूष गोयल ने बहुत ही अच्छे तरीके से लोगोको बताया है की अपने काम के प्रति सेल्फ मोटीवेट कैसे रहे।
१० थॉट्स –

1.जिंदगी को अगर किसी का सहारा लेकर जिओगे एक दिन हारा हुआ महसूस करोगे.

2.किसी काम की करने की नियत होनी चाहिए टालने से काम नहीं चलने वाला.

3.आपके सपनो में बहुत के सपने छिपे हैं …अपने सपने पुरे करो.

4.सोचना मेरी आदत…लगन मेरा समर्पण….जिद्द मेरी सफलता.

5.जिनकी नींव मजबूत उनकी विन(win) निश्चित हैं

6.मेरे लिए आलोचना करना चना चबाने जैसा हैं

7.चुनौतियों की चिंता न करो चिंतन करो चुनौतियां हर समय किसी न किसी रूप में आपके साथ चल रही हैं

8.उतनी इच्छायें पालो जीतनी पा लो

9.जो संघर्ष करते हैं वो जानते हैं मेहनत का कोई विकल्प नहीं हैं.

10.अगर आपके कदम में दम हैं आपका कद कभी छोटा नहीं होगा क(दम)… (कद)म.

Rate & Review

Arun Kumar

Arun Kumar 2 months ago

Pravin Konge

Pravin Konge 3 months ago

good.

Geet

Geet 3 months ago

Piyush Goel

Piyush Goel Matrubharti Verified 3 months ago