lover by nature, writer by mind, singer by heart, indian by soul. जै श्री राम

बहुत उदास है कोई,
तेरे चले जाने से ..
हो सके तो लोट कर
आजा किसी बहाने से ..
तू लाख खफा सही मगर
एक बार तो देख पलट के ...
कोई टूट गया तेरे रूठ जाने से!

-Sarvesh Saxena

Read More

कभी कभी
ओझल हो जाती है
नींदआंखों से,
संवेदनाएं मन से,
पाषाण की तरह
रह जाता है ये शरीर
बस एक आस में,
एक उम्मीद में,
बोझिल टूटते तारे सा
जीवन के अंतरिक्ष में....

-Sarvesh Saxena

Read More

किसी के लिए रोने से अच्छा है किसी के लिए मुस्कुराओ....
यही जिंदगी के असल मायने हैं

-Sarvesh Saxena

,

-Sarvesh Saxena

अपने जीवन का लक्ष्य वही पूरा कर सकता है जो दूसरों के सुख दुख की जरा भी परवाह न करे

-Sarvesh Saxena

🌺🌸🌸🌺

🌸🌺🙏🌺🌸

-Sarvesh Saxena

For many years I had hoped for your arrival.. I lost my sleep today.... Hope is broken.....

-Sarvesh Saxena