Hey, I am on Matrubharti!

stay home stay safe

कुछ तो कुदरत ने उनका हुस्न भी क़ातिल कर दिया....
एक तो सांवला रँग,उसमे तिल और ऊपर से डिम्पल भी शामिल कर दिया ।।

Read More

लाजवाब ख्वाहिशें है मेरे दिल की देखो ना...
एक तो फिर से मोहब्बत करनी हैं और वो भी तुमसे ही करनी है ।।

दीवानों ने दिया हैं तुझे शौहरत गजब का..
वरना ए इश्क़ तेरी दो कौड़ी की औकात नहीं ।।

सामने ही ख़ूँ से लथपथ रेशमी सलवार है
हद है इसपर भी सभी को रेप से इन्कार है
क़त्ल करके मेमने का भेडिया निश्चिंत है
जाँच मे पाया गया है आज मंगलवार है
शर्म के सारे लबादे दूर लज़्ज़ित हैं पड़े
महफ़िलों में यूं नुमाइश का खुला बाज़ार है
आप सच की तह तलक कैसे पहुँच पाते मियाँ
आपके चारों तरफ़ जब झूठ की दीवार है
देश सारा भीड़ मे तब्दील होगा एकदिन
हर तरफ़ अफ़वाह का बाज़ार जब गुल्ज़ार है
वोट देकर कोसने का फ़ायदा कुछ भी नहीं
जैसी तुमने ख़्वाहिशें की वैसी ही सरकार है
कौन ख़ुद की असलियत से 'जय' होगा रूबरू
लोग जब कहने लगे हैं आइना बीमार है

Read More

"जय"

बहुत मिल जाएंगे तुम जैसे हमको
ये बोलकर छोड़ दिया गया हमें ।।

महफूज रहो तुम जिदंगी के हर दर्द से
हम तुम्हें नही तुम्हारी सलामती माँगते हैं
"JA"

जय

सलामत रहे वो दुनिया जिसमे तुम बसती हो...
इक तुम्हारी ख़ातिर हम सारी दुनिया को दुआ देते हैं ।।