मे ईबादत रब की जगह तेरी करता रहा,
दिने कयामत खुदा ने पूछा तेरा नाम रटता रहा!!

नफरत# इश्क़#

रोज तुम्हे तंग करनेका मजा आता है,













.

क्योकि इतनी दूर हु में तुम मार तो शकते नही मुक्का🤣🤣🤣

और बताओ


खाना खाया की नही??🤣🤣

🤒🤒🤒😥😥

epost thumb

सुनना मेरी बात,

दुवा करदेगी मेरी मौत की रब से??
नही जिन्दा रहना अब तेरे बगैर!!!😢😢

दर्द के पर्दे गिरे है मुज नाचीज पे,
पता नही कब उठ जाये इस जहां से??

नफ़रत#
दर्द#
इश्क़#

नफरत करते करते कब इश्क़ हो गया पता नही,
जिस्म से लड़ते लड़ते कब दुनिया छोड़ दु पता नही!!!

नफ़रत#

तुजसे हारने में जो मजा है वो जितने में नही ए घमंडी😍😍

खून निकल रहा है मेरे खाँसने से,
अब रूह भी निकलने वाली है मेरे जिस्म से!!!

#इश्क़

जुज़ गुमाँ और था ही क्या मेरा
फ़क़त इक मेरा नाम था मेरा

निकहत-ए-पैरहन से उस गुल की
सिलसिला बे-सबा रहा मेरा

मुझ को ख़्वाहिश ही ढूँडने की न थी
मुझ में खोया रहा ख़ुदा मेरा

थूक दे ख़ून जान ले वो अगर
आलम-ए-तर्क-ए-मुद्दआ मेरा

जब तुझे मेरी चाह थी जानाँ
बस वही वक़्त था कड़ा मेरा

कोई मुझ तक पहुँच नहीं पाता
इतना आसान है पता मेरा

आ चुका पेश वो मुरव्वत से
अब चलूँ काम हो चुका मेरा

आज मैं ख़ुद से हो गया मायूस
आज इक यार मर गया मेरा

--जोन एलिया

Read More