Hey, I am reading on Matrubharti!

#निजी

ईश्वर की नजरों में सभी मनुष्य एक समान है।
किन्तु हमने अपने निजी स्वार्थ के वशीभूत होकर इसे हिन्दू-मुस्लिम के भेद में वर्गीकृत कर दिया है।

✍नेहा शर्मा

Read More

#Passive

Stability makes life passive.

✍NEHA SHARMA.

#चित्र
💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦

पन्नों पर उसने उकेरे कई लोगों के चित्र
व्यवहार से पता चल गया कैसा है चरित्र।

✍नेहा शर्मा

Read More

#पक्ष

इस दुनिया में किसी भी वस्तु के दो चरण होते है एक पक्ष और दूसरा विपक्ष।इन्हीं दो चरणों के आधार पर ही किसी वस्तु की कमियों एवं खूबियों का आंकलन किया जाता है।
इन पक्ष और विपक्ष के तर्कों के कारण ही वस्तु के महत्व में कई गुना वृद्घि होती है।

✍नेहा शर्मा

Read More

#परिपूर्ण

💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦💦

कोई भी व्यक्ति इस दुनिया में परिपूर्ण नहीं है।
हर किसी में कोई ना कोई कमी अवश्य होती है।इन कमियों से ही सीख लेकर व्यक्ति परिपूर्णता पाने की चाह हमेशा आगे बढ़ता रहता है।

✍नेहा शर्मा

Read More

#भटकना

ईश्वर की खोज में हम भटके चारों धाम
मन्दिर, मस्जिद, गिरिजाघर में लिया प्रभु का नाम
होकर निराश जब मानव बैठा एक शाम तेरे द्वार
अंतरात्मा की गहराई में मिले जगतपति सिया राम।।

✍नेहा शर्मा

Read More

#Random

My random thinking makes me different
gives a special status in this crowd of the world.

✍NEHA SHARMA.

#आदर

पुस्तकों के ध्यान से बढ़ता मन का ज्ञान
इंसानियत के पाठ से मिलता आदर मान

✍नेहा शर्मा

#उदय

उदय करें अपने मन में सुकर्म की चाह
पल में आसान बनेगी फिर जीवन की हर राह

✍नेहा शर्मा

#पहलू

सफलता और संघर्ष एक सिक्के के दो पहलू है, जो व्यक्ति के जीवन को नवीन उँचाईयाँ प्रदान करते है।

✍नेहा शर्मा

Read More