Hey, I am on Matrubharti!

तुम बिन ये जीवन अधूरा है,
तुम बिन सुना सुना सावन,
याद आते है वो सुनहरे पल,
वो हंसना रूठना फिर मान जाना
जैसे कल परसो की बात हो,
पर दिल कहता है "सदियां गुजर गई"
दिल की भाषा दिल ही जाने,
में तो नभ का यारों उड़ता पंछी,
रंग बिरंगे सपनो का में सौदागर,
कुछ छोटे तो बड़े सपने मेरे,
राहो में आगे बढ़ना काम है मेरा,
मेहनत मेरा धर्म कर्म है मेरी पूजा,
मुझको को तो खुद पर है विश्वास,
एक दिन तुम आओगे मेरे पास,
जीवन बहता एक दरिया है,
जाना है एक दिन मुझको उस पार,
सोचता हूं तुम साथ होते तो,
ये सफर कितना अच्छा होता,
तुम गाते मधुर गीत में सुनता,
ये गीत संगीत से आ मिलता,
धवल चांदनी में स्वर लहराते,
शीतल शीलत बहलता नीर वो,
कहता तुमसे मुझसे कुछ यूं,
लोट के फिर न आने वाला कल,
"ठाकुर"कुछ कर जाए जग में,
दुनिया गाये तेरे मेरे मीठे मीठे गीत।

Read More