struggling writer ....

ज़ाहिल रह गयी हु अभी बहुत कुछ सीखना है,
स्कूल की पढ़ाई काम नही आई यारो उसकी आँखों को अभी पढ़ना सीखना है ।
"नीलम"

Read More

शराब की दो बूँद और इक शबाब तेरा,
मैं मदहोश और दिल घायल मेरा 😍
"नीलम"

चल एक फायदे का सौदा करते है, जिसमे दोनो का फायदा हो ऐसी बात करते है, कर देती हूं सारी जिंदगी तेरे नाम,और तेरा नाम मेरे नाम करते है ।

Read More

इक उलझन है प्यारी सी
इक ख़्वाब है अधूरा सा
इक मैं हूं लाचार सी
इक वो है अनजान सा।
"नीलम"
(to be continued...)

वो घण्टो बैठा रहा मेरा हाथ पकड़ कर शादी की रात।
--
फिर मैंने उससे कहा ,कलाइयां,ज़ुल्फ़ें और लब भी हैं मेरे बदन में।

Read More

कमबख़्त इस मौसम बारिश भी तेरे इक़रार की तरह निकली,
होने का नाम ही नही ले रही ।
"नीलम"

खामोशी को तोड़ दो लफ्ज़ कभी तू भी कह दे,
कुछ बोल न बोल गर मैं कहूं मोहब्बत है क्या मुझसे तो "कबूल है" बस इतना कह दे।
"नीलम"

Read More

जल्दी अपनी मर्जी से कबूल कर लो मेरी मोहब्बत,
फिर मत कहना इस सावन महादेव से मांग लू जो तुम्हे ।
"नीलम"

Read More

मोबाइल के हर फोल्डर में तस्वीर है तेरी,
इससे ज्यादा कुछ जायजाद नहीं मेरी ।

क्यू न तुम्हारी तस्वीर से ही मोहब्बत कर लूं मैं,
कम से कम जब देखो मुस्कुरा देती है ।