you are the key of my smile.

get well soon Neha...

क्या बेचकर हम खरीदे हैं फुर्सत… जीवन 
है… 
सब कुछ तो गिरवी पड़ा है 
जिम्मेदारी के बाजार में!

din raat taras gye tumhari judai me, Meri muskurahat h Teri parchhai me..