follow me on instagram @ shabdo_ni_suvas_

વિતાવીશું સાથે હર એક પળ આ જીવનની,
કહ્યું હોય જેને આવું પુરા પ્રેમ અને વિશ્વાસ થી,
એ જ વંચિત રહે આપણા જીવનની એક એક ક્ષણથી,
આથી કપરી સજા શું હોઈ શકે સાચા પ્રેમની...

-pandya Rimple
@shabdo_ni_suvas_

Read More

जब रो रोकर आंखों से आंसु सुख जाते है,
वो अंदर ही अंदर सिमट कर एक कोने में दब जाते है।
कौन क्या कहता है क्या करता है उससे क्या फर्क पड़ता है,
जब ये आंखे नहीं दिल सिसक सिसक कर रोने लगता है।

-pandya Rimple
@shabdo_ni_suvas_

Read More

उम्र के हर पड़ाव को तेरे साथ जीना चाहती हूं,
आखिरी हो मोड़ जब तुज में ही ढल जाना चाहती हूं।

-pandya Rimple
@shabdo_ni_suvas_

त्योहारों के पहले की चहलपहल हो तुम,
त्यौहारों की रंगत हो तुम,
में उन त्योहारों के बाद के खालीपन सा,
मेरी उदासी को खुशियों से भरनेवाली रोनक हो तुम।

-pandya Rimple
@shabdo_ni_suvas_

Read More

दो पल सुकून से तेरे पास बैठना चाहती हूं,
कांधे पे तेरे सिर को अपने रखके में जी भर के आज रो लेना चाहती हूं।

-pandya Rimple
@shabdo_ni_suvas_

Read More