मैं डॉ. रंजना जायसवाल ...लिखने पढ़ने के शौक ने मुझे इस ग्रुप से जोड़ दिया। एक लेखिका और स्टोरी टेलर के तौर पर आकाशवाणी वाराणसी, आकाशवाणी मुंबई संवादिता,दिल्ली f m gold में मेरी कई कहानियाँ और लेख आ चुके हैं। इसके अलावा देश के कई प्रसिद्ध अखबारों (दैनिक भास्कर,स्वतंत्र भारत,दैनिक नवजीवन और अमर उजाला) में भी मेरे लिखे लेख छप चुके हैं l

#वक्त
वक्त आता जरूर है... पर वक्त ...आने में बहुत वक्त लगाता है।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

दुनिया की भीड़ में मुद्दतों बाद खुद को आईने में देखा...कुछ-कुछ जाना-पहचाना सा लगा...!!
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

Read More

"Song"


#Navratri

घनर-घनर नाचै रे
घनर घनर झूमे रे
आया रे आयो रे

हो जी होssss...

आयो रे गरबे का त्योहार

हो जी होssss.

आयो रे गरबे का त्योहार

केसरिया रंग डालो...
मस्ती के गीत गा लो...
खुशियो के दीप जला लो...

हो जी हो ssss..

आयो रे गरबे का त्योहार

हो जी हो ssss.

आयो रे गरबे का त्योहार


मन मे जले खुशियों के दीप,
आओ गाये मस्ती के गीत,
आओ करे दिलों को जीत,

हो जी होssss..

आयो जी गरबे का त्योहार

हो जी हो ssss.

आयो रे गरबे का त्योहार

कोई बचे न अबकी ये बार,
मन मे रहे न कोई भी रार,
गरबे की ताल में,
मस्ती की थाप में,

हो जी हो

आयो रे गरबे का त्योहार

हो जी हो

आयो रे गरबे का त्योहार
आयो जी गरबे का त्योहार...

डॉ . रंजना जायसवाल

Read More

#माफी
माफी मांगना जितना मुश्किल... उससे कही ज्यादा माफ करना मुश्किल होता है...क्योंकि हर गलती की माफी नहीं होती।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

Read More

#जिन्दगी
थक गई होगी तू भी चलते-चलते।ए हम कदम आ बैठकर चाय पी जाये।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

#चमकीला
आँसुओं से ज्यादा चमकीला कुछ भी नहीं... जिसकी चमक में बड़े-बड़े भाव भी डूब जाते हैं।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

Read More

#तन्हाई
कभी भीड़ में अकेलापन महसूस किया है...या फिर अकेलेपन में भीड़ को...???
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

#स्वादिष्ट
ठोकरें ...एक बार सपनों को बेस्वाद जरूर बना देती है... पर अंत में जिंदगी स्वादिष्ट हो ही जाती है।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

Read More

#विजय
वो जीत भी खुशी नहीं देती...जो अपनो को हराकर पाई जाती है।
डॉ रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal

# भद्दा
बदसूरती दिल में नहीं दिमाग में होती है।
डॉ. रंजना जायसवाल

-Dr.Ranjana Jaiswal