रंग बदलती दूनियाँ देखी देखा जग व्यवहार, दिल टूटा तब मन को भाया महादेव तेरा दरबार.....

"સીયા, રામ"

सदा सलामत रहे वो शहर जिसमे तुम बसे हो
तुम्हारे खातिर हम सारे शहर को दुआ देते हैं

रात ही की बात है-
चांद हिल रहा था आसमान पर
पेंच ढीला था कोई
डर था गिर पड़े न आसमान से
कुर्सी खींचकर वहां से हट गया
व्हिस्की का गिलास भी उठा लिया!
आधी रात में मगर...
अजीब हादसा हआ
समय गुजर रहा था, उसका
पांव लग गया
प्लग निकल गया
और चांद बुझा गया!

#गुलज़ार

Read More

જાત અટકી તોય
ના અટકી પીડાની જાતરા,
જો અમે પથ્થર થયા તો
સામા મળ્યા ટાકણા....
~ રમેશ પારેખ

लग जा गले के फिर ये हसी रात हो न हो
शायद फिर इस जनममें मुलाकात हो न हो

हमको मिली है आज ये घडी़या नसीब से
जी भर के देख लिजीए हमको क़रीब से
फिर आपके नसीब में ये बात हो न हो
शायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो.....

Read More

Sakhi piya ko jo mai na dekhu,
to kaise kaatu ratiya.....🎶🎶🎶 😍