હૃદય ને હૃદય થી મળજો ક્યારેક હૃદય મજા નો છે.insta id ..07ravubha

कब तक खर्चायगा दूसरो के लिए ; बहुत हो गया ,
नुकसान तुझ को तुझ से इतना हुआ की बर्बाद हो गया ।
कोई समझे तुझे ऐसा तो ख्वाब देखे अर्शा हो गया ।
नुकसान तुझ को तुझ से इतना हुआ की बर्बाद हो गया ।
इस भ्रम को भ्रम में भी रखों की सितारा सूरज हो गया,
नुकसान तुझ को तुझ से इतना हुआ की बर्बाद हो गया ।
ये अवनी का मंजर टूटा है अब ये हृदय खुद्दार हो गया ,
नुकसान तुझ को तुझ से इतना हुआ की बर्बाद हो गया ।
" हृदय "

Read More

हमारा प्यार ही अच्छा ले लो हम प्यारे ही अच्छे है ,
नफरत हमारा स्वभाव नहीं और नफरत हमसे अच्छी नहीं
हम आते रहे यही शुभकामना संदेश आपके लिए अच्छे है,
हम जाएंगे तो फिर हम से दुश्मनी ! ये बात अच्छी नहीं ।
घमंड से परहेज़ है इस लिए , गुलाम से आजाद अच्छे है ,
सादगी के दीवाने है , वीरता हमारे सामने ; अच्छी नहीं
तेवर, ताक़त और तलवार, म्यान में हो तो ही अच्छे है ,
बिना औकात के जान हथेली पर; ये रीत अच्छी नहीं।
खानदानी ,खुमारी संस्कार के साथ मिले हो तो अच्छें है ,
सिर्फ बाते शेर की ओर दहाड़ गीदड़ की अच्छी नहीं ।
खुद को खुद के अंदर जांख ,फिर बोल सब अच्छे है ,
हृदय पुष्प अर्पित कर माभोम को ,झूठी बनावट अच्छी नहीं ।
" हृदय "

Read More

ચાલ ને વરસી લઈ ધડીક ,
આ વરસાદ માં પલળી લઈએ
આમ તેમ ચાલ્યા કરશે જીવન ,
ચાલ ને થોડુંક વરસાદ માં છલકી લઈએ
હરખાઈ હેત થી ઉભરાઈ આંગણામાં ,
પછી શેરીઓ માં છલોછલ વહેલા રહીએ ,
અવની ના હ્રદય માં આલિંગન કરતા કરતા ,
આભમાથી થોડું @આસમાની કોહિનૂર ઉતારી લઈએ
" હ્રદય "

Read More

इस कदर मत आसान बनो की तुम को अनदेखा करने लगे लोग ,
खुद की इज्जत लीलाम करो और यूहीं बेइज्जती करने लगे लोग ।
थोड़ा हाथ थामलों तुम; तूमारी इंसानियत का इस बार ,
बेसब्री को रोक ना सको और उसी जगह बेवकूफ़ कहने लगे लोग ।
ये जो भरे पड़े हो ना भाव प्रेम से ;हर किसिके लिए ,
कम ना कर सको तुमारी मानवता और जज़्बाती कहने लगे लोग ।
तुम ये सोचते हो कि भावनाएं तुमारी सही है; तो बांध दो,
अवनी बूंद से पिगलेगी नहीं और हृदय बावरा है कहने लगे लोग ।
"हृदय"

Read More

तू लाख कोशिश करते रहो ,मायुश ना होंगे ,
ये उत्साही जीवन के जीवंतता का जवाब है ।
ठोकरें खाकर आगे बड़ा ,हमारी आदत का स्वभाव है
ये उत्साही झरने के बहना खुशमिजाजी का जवाब है ।
निराशा रखलो तुम पास
हमारी फकीरी वाली फेरी है ,
ये उत्साही "हृदय " का धड़कना ,ये इस अवनी का जवाब है ।
"हृदय"

Read More

गलत करो तुम तो कभी ना कभी तो दिखता है ,
इंसान...!अपनी गलती से ही सीख लेके सीखता है ।
ये अवनी सब तेरी तू इस भारत मा का ही बेटा है ,
तू "हृदय" उसका चीरता है तो उसको भी दुखता है ।
गलती पे गलती ...चाहे कितनी भी करलो चलता है ,
पर गलत मत करना, ऊपरवाले को सब दिखता है ।

" हृदय "

Read More

અણધારી આફત માં બાથ ભરી ને સાથ આપે છે એક પ્રેમાળ ઝરણું ...હૂંફ ,
કડકડ કરતી તૂટી પડેલ લાગણી ને પાછી સડસડાટ
બેઠી કરે છે ...હૂંફ.
આપતા જ બમણી થાય એવી મીઠાસ આ તો સરવાળા ની નિશાની છે ...હૂંફ.
આપલે કરી ને વધારો અવની પર સરખે સરખી ,આ તો હ્રદય ની ભીનાશ છે... હૂંફ.
" હ્રદય "

Read More

जिंदगी की इस जिंगमे में उत्साही हूं,
करना पड़े कोई हुंकार तो तैयार हूं ।
शेर की दहाड़ से ही चलनेवाला शेर हूं,
मा भवानी की क्षत्र छाया में खुली शमशीर हूं ।
" हृदय "

Read More

કછડો ખેલ ખલક મે જીં મહાસાગર મે મછ ,
જત હકડ઼ો કચ્છી વસે ઉત્ લગો પ્યો દીયાણે કચ્છ.

અષાઢી બીજ (કચ્છી નવે વરે જી મિંડી કે લખ લખ વધાયું.

Read More

वो जताते नही हमारे बारे में हमसे ,
वो बरहम से हो गए है ,ओर हम बेशर्म से ।
कुछ तो पाबंदी रखी होगी यू छुपाना मुझसे ,
वरना ह्रदय को कोन छुपाता है खुदसे ।।

Read More