मैं एक लेखक हूँ, मैं अपने अनुभव के आधार पर लिखा करता हूँ और ये बहुत ही दिलचस्प रहता है कि मैं खुद को लिख पता हूँ प्रेरणादायक लेख लिखना भी मुझे बहुत अच्छा लगता है

इश्क़ में जी हजूरी वाज़िब है वहाँ तक,
जहाँ तक खुद का वजूद महफूज़ रहे।।

"गलतफहमियां-1" शीर्षक के अन्तर्गरत पढ़िए।
कि किस प्रकार अक्सर युवाओं में एक दूसरे के प्रति किस प्रकार समझने में चूक होती है। कोई एक धोखा देने के लिए दूसरे को गलत ठहरता है जबकि वैसा कुछ भी नही होता।।

https://www.matrubharti.com/book/19890959/galatfahmiya-1

Read More

❤️❤️

विचार

विचार

❤️

😊😊

माना कि लहलाती जमीं,
बंजर हो चली।
गर कोशिश हो जमीं पर,
महोब्बत समेटे हरियाली जरूर लहराएगी।

स्मरण रखिये आप सम्पूर्ण संसार में #अद्वितीय है बस आवश्यकता है स्वयं को पहचानने की। जिंदगी इस प्रकार से जियो कि लोग आपको अपना आदर्श माने।


#अद्वितीय

Read More

वक्त के समान्तर क्षितिज पर सरपट दौड़ती जिंदगी में, मैं जगाना चाहता हूँ सुसुप्त प्रेम को जिसे मेरे अंदर कोई ईर्ष्या,द्वेष,स्वार्थ शेष न रहे,तब मैं जी पाऊंगा एक खूबसूरत जिंदगी...

Read More