introvert writer

परिंदा कैद में रहना सीख गया था,
मगर मालिक ने उसे आज़ाद कर दिया।
जो भूल गया था उड़ना खुले आसमान में,
उसे अचानक ही बेघर कर बर्बाद कर दिया।।
#रूपकीबातें

Read More

इंसान और रिश्ता दोनों ही खूबसूरत लगेंगे,
बस ज़रा तुम दूरी को बरकरार रखना।।
#रूपकीबातें

मेरी तरह वो भी कितना चीखा और चिल्लाया होगा,
मेरे पास दिन में जाने, कितने दफ़ा आया होगा।
ढूंढ रहा होगा वो भी मुझको, रात के अंधेरों में,
दूर कहीं जो दिखता है, शायद उसका साया होगा।।
#रूपकीबातें

Read More

ज़्यादा कुछ नहीं, मगर हाँ..
अब बाकी की ज़िंदगी,
'काश' और 'शायद' में गुज़र जाएगी।
#रूपकीबातें

महज़ "मैं ठीक हूँ" कहने से सब कुछ ठीक होता,
तो सबकुछ ठीक होता।
#रूपकीबातें

झूठी होती हैं ये मुस्कुराहटें,
और यकीन सबको इन पर है।
#रूपकीबातें

मेरे सपने तो कुछ ऐसे टूटे हैं,
की यकीन ही नहीं होता..
उन्हें मैंने कभी देखा था।
#रूपकीबातें

रिश्ते प्याज की तरह होते हैं,
जितने ज़्यादा खुलते हैं,
उतने आँसू और तकलीफ़ देते हैं..
और अंत में बस खोखले होते हैं।
#रूपकीबातें

Read More

मुझे सबने बहुत कुछ सिखाया,
मगर..
भीड़ में बेझिझक अपनी बात कहना नहीं सिखाया।

मैंने दसवीं के बाद गणित की पढ़ाई की,
मगर हिसाब करना मुझे रिश्तों ने सिखाया।
#रूपकीबातें