.

.. कान्हा की बंसी जो राधा ना पुकारे
फिर क्यूं राधा जी कान्हा को निहारे

बंसी के सूर पे तो गोपियां है खेले
कान्हा के नैन में तो राधा है पहले .. ..

Read More

..अगर मैं कहूं
अगर मैं कहूं
मुझे तुम से महोब्बत है
मेरी बस यही चाहत है
तो तुम क्या कहोगी

जावेद अख्तर