I am here for writing my thoughts and my concepts and ideas regarding the people, politics , life style, humanbeing, culture, drama and many more

तेरे आसमान मे तारे कम पड़ गए,अब कहा दिखाई देते है
शायद इसी लिए अच्छे लोग तारे बन्ने के लिए इस जहाँ से विदाई लेते ह

Read More

मेहमान हो साहब तुम इस कुद्रत के
तो मेहमानी करो !
मत बिगाडो उसका घर
मत बिगाडो उसका घर इस कुद्रत से ड़रो
ना जाने कब ये अपने घर से निकाल दे
उताना भी उसे बेबस मत करो!

Read More

ज़िन्दगी जीना इतना आसान नहीं है
ज़िन्दगी की कीमत कम होती जा रही है
ज़िन्दगी आज के समय मे एक चुनौती बन गई है
इसी लिए जब भी ज़िन्दगी से थक जाओ य़ा मुसीबत मे हो तब एक दोस्त को याद करना
हम सफर , हम दर्द को याद करना
उसे अपनी परेशानी बताना, वो तुम्हे एक सही राह दिखायेगा,
उस दोस्त का एक शब्द मे हु ना तुम्हारी हर मुसीबत मे रास्ता दिखायेगा,
ये दुनिया तुम्हारी हे ये सारा ज़हा तुम्हारा हे
ज़िन्दगी को ज़िन्दगी की तरह ज़ियो,
love your life
🌹🌹😘😘

Read More

उम्मीदो की राहो मे दिये लेके खडे थे ,
लोग आये और बुझा कर चले गए !

इनको यू पेदल चलने के लिए मजबूर ना करो!
इनको यू पेदल चलने के लिए मजबूर ना करो !
पेरो मे किस्मत और लाचारी के छाले पड़े है !
वक्त बदल गया है, वक्त बदल गया है,
अब तो शहरो मे भी खाने के लाले पड़े है !

Read More

सच्चा मित्र ही जीवन की औषाधी होती है
जिस तरह औषाधी कडवी होती है और बीमारी को दूर करती है!
उसी तरह सच्चा मित्र वही हे जो अपने मित्र की बुराई
को दूर करने के लिए कडवे वचन कहे!
अन्यथा अपने हित के लिए तो हर व्यक्ति झूठी तारीफ और चपलता करता है आज के ज़माने मे.

Read More

बे वजह ही बदनाम हे कुलहादी पेड को काटने के लिए
उसे तो मोहरा बनाया हे उसी पेड की एक डाली ने

मुझे यू हसने मुस्कुराने की सलाह ना दो
गमो की गिंती इतनी हे कि मुस्कुराहट कम पड जाती है