lover by nature, writer by mind, singer by heart, indian by soul. जै श्री राम

बुरे वक्त में ही पता चलता है कि अच्छा कौन है

-Sarvesh Saxena

,🥀

-Sarvesh Saxena

-Sarvesh Saxena

🥀

Some stories are written with pen. Some stories are written with pain

हांथ फैला कर मांगा था उस ऊपर वाले से,
पर उसने फरियाद सुनी ही नहीं
जब पूछा मैंने इसकी वजह तो उसने कहा
क्यों चाहते हो वह चीज
जो तुम्हारे लिए बनी ही नहीं

-Sarvesh Saxena

Read More

one day ....
everything will be fine

-Sarvesh Saxena

कभी कभी
ज्यादा संभाल के रखी हुई चीज भी वक्त पर नहीं मिलती
शायद जिंदगी का भी कुछ ऐसा ही हाल है

-Sarvesh Saxena

*फिर कभी साथ बैठो...*
*तो बयां दर्द भी हो...*

*अब यूँ दूर से पूछोगे...*
*तो ख़ैरियत ही कहेंगे !!!*

-Sarvesh Saxena