lover by nature, writer by mind, singer by heart, indian by soul. जै श्री राम

उस दिन उसको जाते हुए
बड़ी देर तक देखता रहा था मैं ....

शायद वक्त को मालूम था कि
अगली बार उसे देख ना पाऊंगा ...

हर बार ऊपर वाले ने
बड़ी देर लगाई दुआ सुनने में....

पता नहीं था पूरी हो जाएगी इस बार
दुआ जैसे ही मांग कर आऊंगा....

-Sarvesh Saxena

Read More

दुनिया में कभी किसी अच्छे इंसान की तलाश मत करो ..

बल्कि

खुद बहुत अच्छे इंसान बन जाओ
क्या पता कि आपके इस काम से किसी और की तलाश खतम हो जाए...

-Sarvesh Saxena

Read More

जिंदगी के पौधे को हम प्यार, फर्ज, रिश्ते और उम्मीदों से सींचते हैं तो वह पौधा धीरे-धीरे बड़ा होता जाता है और इस पर खुशियों के न जाने कितने पंछी आकर बैठते हैं लेकिन एक दिन ऐसा आता है जब खुशियों के वो सारे पंछी न जाने क्यों उस पेड़ से उड़ जाते हैं और वापिस नहीं लौटते ।




-Sarvesh Saxena

Read More

सभी देशवासियों को
गणतंत्र दिवस
की हार्दिक
शुभकामनाएं
जय हिंद
जय भारत
🇮🇳

-Sarvesh Saxena

बरसों बाद किसी ने पूछा,

“कहा रहते हो आजकल”

मैने मुस्कुराकर कहा,

“अपनी औक़ात में"

Sarvesh Saxena लिखित कहानी "A Dark Night – A tale of Love, Lust and Haunt - 1" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19898958/a-dark-night-a-tale-of-love-lust-and-haunt-1

Somtimes situation makes u to hate someone..
.
But don't hate that person..
Just hate that situation!
.
.
Nobody is bad,
Situation makes a person bad!

-Sarvesh Saxena

जिंदगी......
कुछ उन अधूरे अल्फाजों सी...
जो अक्सर कांच के शीशों पर अनायास ही उभर आते हैं
पर कभी पूरे नहीं होते ....
कौन जाने???
कि उन अधूरे अल्फाजों में कई कहानियां छुपी हुई होती हैं ...

-Sarvesh Saxena

Read More

ज़िंदगी ने कई सवालात बदल डाले..।।

वक़्त ने मेरे हालात बदल डाले..।।

मैं तो आज भी वही हूँ जो मैं कल था..।।

बस मेरें लिए लोगों ने अपने ख़यालात बदल डाले.....

-Sarvesh Saxena

Read More

इंसान की नासमझी की हद तो तब होती है जब वह जिंदगी भर उसी के लिए रोता रहता है जो उसे जिंदगी भर के लिए रुला कर चला गया हो और हम कहते हैं कि हम समझदार हो गए

-Sarvesh Saxena

Read More