Full story of my life...._ myself a half writer...

happy uttarayan 🙏

करने लगा कत्ल जब आंख का काजल,
फिर वो सुरमा बरेली का मशहूर हो गया..

-satyendra kumar ✍️

क्या डरना आंधी, तूफ़ानों से, है विसात क्या भूचाल की।
काल भी उसका क्या बिगाड़े, जिस पर कृपा हो महाकाल की।।

🙏🙏

🥀🌷ॐ नमः शिवाय 🌷🥀

Read More

कितने नुस्खे आजमाए कितनी तरकीबें अपनाई हमने।
मंजिल दिखने लगी जब अपनी आंखे जलाई हमने।।

-Satyendra prajapati

सर उठाती तो आसमान,
सर झुकाती तो मैं तुम्हारे लिए धूल हो सकता था।
बेशक मै कांटा था मगर,
तुम मुझे छू लेती तो मै भी फूल हो सकता था।।

-Satyendra prajapati

Read More

वक़्त से पहले मुरझा गए,
वो गुल फिर से खिलने चाहिए।

ये उजाले सब के लिए है,
तो सबको मिलने चाहिए।।

-Satyendra prajapati

आग जमी को लगती हैं, धुआ आसमान को उठता है।

अक्सर खामोश वो रहती हैं,अक्सर दम मेरा घुटता हैं।।

-Satyendra prajapati

✍️✍️

दुनिया पंख तो देती है, मगर उड़ने नहीं देती हैं।
हमारी बेटियां बुलबुल है, मगर पिंजरे में रहती हैं।।

-Satyendra prajapati

Read More

तेरे कोरे दिल को अपने लहु की स्याही से रंगीन कर देते हैं,
मोहब्बत जुर्म है तो चलो ये जुर्म भी संगीन कर देते हैं,
सुना है इस आसमां को बहुत गुरूर है आसमां होने का,
चलो आज क़दमों के नीचे लाकर इसे भी जमीन कर देते हैं..

-Satyendra prajapati

Read More