×

होठ चुप रहे,आंखो ने बोल दिया,हम चुप रहे हमारा दिल आंसु बनकर बोल गया,की मेरा मुझसे रुठ,गया जो मिला उसे हम न अपनां मान सके,न उसे दिल मे जगा दे पाये

क्या ज़माना था,

हम तुमे दुवा मैं मांगा करते थे,

तुम हम पर हँसा करते थे,

तुम्हारी हँसी से दिन खुशनुमा होता था,

मन मंदिर या देवता तुमको माना था,

तुम हम पर पागलो का धब्बा दे गए.

प्यार हमारा सच्चा था,

तुमको हम साबित न कर पाए,

तुम मंज़िल,तु जिंदगी का सुना संगीत,

तुम्हारे नापा़क इरादे को हम प्यार समज बैठे,

हम तुमे पागलो की तरह ढूंढते रहे,

तुम हमारे प्यार पैं हँसते रहै.

संमदर को भी हम तेरा पैगाम देते रहे,

तुम हमको दुनिया सें हमारी पहचान

करा गए पल भऱ मैं

वाह प्यार करना तो कोई आपसे सीखे जना़ब,

क्यां कारवा था हमारा जो इतनी बड़ी सजा दे गए

हँसते हँसते हमको दर्द दे गए पलभर मैं,

प्यार भी अजीब ब़ला है पहेले तरसाता है,

बाद मैं चोट दे कर रुला जाता है.

शैमी ओझा लब्ज़......

Read More

પુસ્તકો સાથે નો મધુરો સંબંધ

સુખ દુઃખ નો સાથી છે, પુસ્તક
નાની નાની સમસ્યા નો હલ છે પુસ્તક.

પ્રેમ લાગણી નો સમંદર છે પુસ્તક,
સુખ માં આનંદ છે,પુસ્તક દુઃખનો સહારો છે પુસ્તક.

જીવન જીવવા નો રાહ છે પુસ્તક,
લાગણી ઓ ને ફુટતી વાચા છે પુસ્તક,

જે ઘર માં પુસ્તક નથી તે ઘર ઘર નથી
સ્મશાન છે.પુસ્તકો તો જીવાદોરી છે.

જ્ઞાન નો ભંડાર છે, પુસ્તક
દિકરી ને દહેજ ઓછું આપી સારા પુસ્તકો આપજો પેઢી ઓની પેઢી ઓ તરી જશે સાહેબ,
સુર સંગીત નો અંતરો છે.પુસ્તકો
સવાલ છે મન માં ઘણા તેનાં જવાબ છે. પુસ્તકો


મતદાન દિવસ અને પુસ્તક દિવસ ની હાર્દિક શુભેચ્છા ઓ


શૈમી ઓઝા "લબ્સ"

Read More

https://youtu.be/WMUbmpiEVio please suscribe my chenal 🇮🇳🇮🇳🇮🇳jay hind

6 Views

चुनाव काम मौसम 🇮🇳😊

बातों का जवाब काम है,
वोट आपका अनमोल है,

२साल मैं एसा हुआ,
की ५साल मैं न हुआ,

दोस्तो लब्स की गुजारीश है,
हिन्दू मुस्लिम मत बनो इलेक्शन के दिन,
मजहब के नाम पै ज़गडा मत करो,
एक मत हो जाए मोदी दादा को जीताओ.

बहुत विकास हुआ है, तरक्की तो बहुत हुई,
मानो की गांधी सा दुसरा जन्म हुअा मोदी के रुप मैं

दुनिया के सारे देश को दोस्त बनाया,
रशिया,चीन,अमेरिका के समक्ष बना दिया,
दुश्मनो की निंद हराम की , पाकिस्तान को औकात दिखाई, वीर सेर ने दुश्मन देश को हिलाया, कायरो के खोफ़ फेलाया,
मोदी दादा क्या बोले तारीफ़ मैं आपकी,
५साल का काम दो साल मे कर दिया,

भारत के चुनाव की चर्चा
पाकिस्तान मैं हो जाये सुने नाम मोदी का
इमरान खान के चहेरे पे बारा बज जाये,
मोदी दादा ने शेर अभिनंदन सर को भेज के
भारत का शीर उंचा कीया,मोदी दादा ने शान जोश से भारत की पहेचान कराई,भाजपा की सरकार आयेगी.भारत मा का परचम गर्व से लहरायेगा.

शहीदो के परिवार की एक खवाइश,
भाजपा तेरा नाम हो ,मोदी तेरा राज हो,
वचनों को हकीकत मैं बदला,
गुजरात का नाम बनाया,
सभी लोगे मुँह सें एक नाम दोहरावै,
लब्स हरहर मोदी हर हर मोदी

दोस्तो आपको एक खवाइश है आप अपना मत बरबाद न करे मोदी दादु को लाये,भाजपा को जीताये .

शैमी ओझा चोकीदार "लब्स "

Read More

प्यार की राह

बहुत दिनो बाद याद किया,
वो पगले की बात सुनते दिल रोया,
यादो मैं उनकी,

महेफुस थी तुम्हारी बातै जो हमने सुनीथी,
जीस दिन तेरी बातें बंद हुई तबसे मरने लब्स
दिल से तुट सी गई थी,

दिल की धड़कन को समजे जनाब साहब,
जिस्म सै नहीं चाह मैं आपकी रुह रोने लगती है.

खत मिला आपका लगा की खुशी लोट आयी,
सुनी धड़कन भी तेरी और दस्तक देने लगी.

खुशी क्या है मैरी पता नहीं,
नजाने क्युं दिल तेरे नाम सै,
क्युं नाच उठता हैं.

कभी दुनिया को अल्विदा कह जाए हम,
तो मातम मत मनाना,याद मैं मेरी आंसु मत बहाना,मिलने आयैं हम आपको तो दिल चाहत मैं हमारी रो रो कर तुट मत जाना.

लोहे की तरह सख्त रहना बरफ की तरह पीगल मत जाना,प्यार का राह होता है कठिनाई भरा,
चलते रहना एक बार भी मुड़कर मत देखना पीछे,

"लब्स" दिल के अल्फ़ाज मैं.....

शैमी ओझा

Read More

suscribe my chenal dosto shr krna mt bhulna

https://youtu.be/2nOc7jL5bB8

5 Views

my new book publication done

दिल को झुनुन चड गया उडान भरने का,
हवा के संग खेलती रहुं,
पानी की तरह बहती रहुं,

इमानदारी से बहुत जी लिया,
अब थोडी सैतानी करलुं.

जिंदगी सुनी है प्यार के बीना,
तुमे तो बहुत ढुढा मैने,
आज खुद को ढुंढ लुं.

प्यार को पाने के सपने बहुत सजायें,
आज खुद को ही थोडा प्यार करलुं.

फितुर चडा खुशामत का ,
क्युं न थोडी खुद की खुशामत हो जाए.

- shaimee oza labs

Read More

ભીતર ખુણા કેરો દર્દ ની આગ ક્યાં ઠારું?
દિલ માં છુપાયેલા કવિ ને કયાં મુકી આવું?

ન કરો ઈશ્ક કોઇને,
જીવન થશે બરબાદ,
વચનો જુદા હશે,
હકીકત જુદી,
દર્દ વેદના  ક્યાં નાંખી આવું?

સવાલ લબ્સ ને એક સતાવે,
ન્યાય માં દેખીતા આંધળા બને,
આંધળી મુર્તિ દેવી બને ન્યાય ની ,
દિલ ના જવાબ કયાં શોધી આવું ?

લબ્સ ને સમજાય નહીં આ રીત,
પીઠ પાછળ બોલાય ઘણું,
ખબરો સીદ છપાય જાહેર,
મન ના વિચાર યુદ્ધ ને કોણ રોકે ?

અનુભવ શિક્ષક લબ્સ નો,
જાણ્યુ ઘણું લોકો સ્વાર્થ ને પ્રેમ
કેવા બતાવી જાય છે હસી ને,
જગ ની નજર થી મુજને કોણ છોડાવે?







શૈમી ઓઝા "લબ્સ "

Read More

पहेली बार देखा ए प्यार तुम्हारा,
लगा की खुदा हम पें मेहरबान हो गए,

तेरी एक मुस्कान से जींदगी  खुशनुमा हो गई,
इस कदर हम सवर गए चाहत मे तेरी.

प्यार सामने था, हम तरस गए चाहत में उनकी,
बेकरार दिल को हम संभाल न पाये,
लब्स बावरी सी हो गई,यादों मैं उनकी.

तेरे खयाल मैं सब लुटा चुकै हम,
सुकुन देने वाली चांदनी क्युं दिल जला गई.

हँसी तेरी बारीश जैसी,
हम न जाने कैसे भीग गए,
प्यार के मैं तेरे.

जानते भी लोग क्युं गलती करते है,इश्क की,
हमने दुनिया की घटिया हकीकत से वाकेफ हो गए.

खुदा हमको बुला लो तेरे घर,
भुला दो हमको ए बात
की कभी प्यार करने की भुल की थी

शैमी ओझा "लब्स"

Read More