Just be the one and only. Believe in yourself and everything is possible.

Vishal to Vikram Batra
की पहले खुद को देखने के लिए तुझे देख लिया करता था,
पर अब तुझे देखने के लिए खुद को देखना पड़ता है।।
🥺🇮🇳🙏🏻❤

-श्रुति शर्मा

Read More

माना की इस पल तू सिकंदर, हम अनाडी हैं,
पर वक़्त का पहिया बदलेगा जनाब
क्योंकि रचनाधार तो वो 🤲 है,
हम तो मात्र उसके खिलाड़ी हैं।।

-श्रुति शर्मा

Read More

माना कभी कभी चाँद इन तारों से साथ दिखाई नहीं देता,
मगर इसका ये मतलब तो नहीं की चाँद सच्ची दोस्ती की गवाही नहीं देता।।

-श्रुति शर्मा

Read More

दोस्ती को तोड़ दे ऐसा किसी रिश्ते में दम नहीं,
जिंदगी में सच्चा दोस्त किसी फरिश्ते से कम नहीं।।

-श्रुति शर्मा

Read More

माँगा कुछ नहीं
प्रभु बस तेरी अपार बन्दगी माँगी थी,
ज्यादा कुछ नहीं
मैनें बस अपनें भगवान रूपी जवानों के लिए एक नई जिंदगी माँगी थी।।

-श्रुति शर्मा

Read More

कुछ पल भुला कर दुनियादारी हम इस कदर बेपरवाह हो गए,
आग लगी कहीं और थी मगर हवा वो हो गए।

जब चुभ गई दुनिया की बातें
तब फिर घायल हो गए,
बनकर शायर लिख डाली दास्तान अपनी
की फिर वही लोग हमारे लेखन के कायल हो गए।।

-श्रुति शर्मा

Read More

जिसकी है तलाश एक दिन वो मंज़र भी पाऊँगी,
सबको याद रहे मेरा नाम खुद को इस काबिल मैं बनाऊंगी,
जीतेजी तो हर कोई मर सकता है साहब,
मगर
मैं तो मरने के बाद भी जीना चाहूँगी।।

-श्रुति शर्मा

Read More

कहीं इस लॉकडाउन में जीवित बहुत दे डिजायर हो गए,
तो कहीं हिम्मत-ए-मर्दा भी कायर हो गए,
थे तो सही शौकीन हम शायरी के,
मगर देखते ही देखते जनाब हम भी शायर हो गए।।

-श्रुति शर्मा

Read More

इस दुनिया पर कभी भरोसा ना करना मेरे दोस्त,
यहाँ के लोगों ने तो रंग बदलने के मामले में गिरगिट को भी मात दे दी।।

-श्रुति शर्मा

Read More

की हिन्दी सिर्फ हिन्दी नहीं हम हिन्दुस्तानियों की मातृभाषा है,
और
ये अंग्रेज़ी तो जनाब आपसी मिलाप का एक तमाशा है।।
#हिन्दीदिवस

-श्रुति शर्मा

Read More