"Being an army officer's wife.. feel proud each n every moment."

🙏🙏

सोचकर ये कि, तुम संभालोगे
मैं कहीं बेसबब न गिर जाऊँ...
ये समझकर कि, तुम समेटोगे
और ज़्यादा न,मैं बिखर जाऊँ....
इस भरोसे में, तुम सिओगे इसे
पैरहन, तार-तार कर बैठूॅं...
💕💕
(पैरहन- लिबास)

-Shweta Deep

Read More

वक़्त से आगे चल रही थी मैं
खुद को कितना बदल रही थी मैं!
फिर एक हादसा जरुरी था
हद से आगे निकल रही थी मैं!!

-Shweta Deep

Read More

तुम बांध रहे हो मेरे वजूद को कतरा कतरा...
मैं जल रही हूं उम्मीदों की लौ लम्हा लम्हा... 💕💕

-Shweta Deep

💕💕