Muhabbat krni h to kitabo se kro... bewfai bhi hui to kabil bna k chhodegi...#D

कुछ लोग दूर रहकर भी दिल के बहुत करीब होते है,,, मेरे लिए वही हो तुम.... #D

तू जहाँ है जैसी है,,
खुश है या तेरी मज़बूरी है,,
मुझे यूँ ही याद रखना,,
क्योंकि मेरे लिये 
बस तेरा होना ही ज़रुरी है....
वो वक्त मेरे लिये सबसे खास है,,
जिसमें तू मेरे साथ है,,
मग़र कैसे कह दूँ,,
कि बिन तेरे ये ज़िन्दगी अधूरी है,,
क्योंकि मेरे लिये 
बस तेरा होना ही ज़रुरी है.... #D

Read More

हाथ थामे रखना, दुनियां में भीड़ भारी है,,,,
खो न जाऊ कहीं मै, ये तुम्हारी जिम्मेदारी है..... #D

कितनी मुहब्बत है तुमसे, कभी सफाई नहीं देंगे,, साये की तरह साथ रहेंगे, दिखाई नहीं देंगे....#D

जब वेबजह कोई इल्जाम लगाए तो उसे अंजाम देना ही बेहतर होता है.... #D

सुना है बहुत बारिश है तेरे शहर में,, सुन भीगना मत,,
अगर धूल गई गलतफहमियां तो बहुत याद आएंगे हम...

जब भी मेरा कभी दिल दुखता है न,,, तो मैं बस ये सोच कर खामोश हो जाता हूं,,, कि वक्त के पास मुझ से अच्छा जबाव होगा... #D

Read More

जवाब तो हर बात का दिया जा सकता है लेकिन जहां खामोशियां न समझी जाए वहां अल्फाजों को जुबां देना जरूरी भी नहीं होता... #D

Read More

अच्छा सच बताओ,,,
सच में कुछ बदला है,
बदला है... #D

तुझे शिकायत है कि बदल दिया वक्त ने मुझे,,,
कभी खुद से भी पूछा है कि क्या तू वही है... #D