#Journalists #Writer #critics

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=1465788106949908&id=100005561978866

जरूर पढिए और अपनी प्रतिक्रिया दीजीए ।

किसी को अपने अमल का हिसाब क्या देते,
सवाल सारे ग़लत थे जवाब क्या देते।।

मुनीर नियाज़ी

दुखद खबर : केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन ..

#Big_Breaking_News

http://www.khadebol.in/2020/10/blog-post.html

जब मामला हद से ज्यादा बिगड़ गया तब सांप्रदायिकता कार्ड खेला जार हा है, युपी सरकार और वहाँ की घटिया पुलिस हाथरस की गुडिया के साथ बलात्कार ही नही हुआ यह कह रही है । याने पीड़ित को झुटा कह रहे है । आखिर बलात्कारियों का साथ यह लोग क्यों दे रहे है ?

Read More

ऐसे मूर्खों को चुनकर देकर जनता ने ही गलती की है, घटिया लोग ।

देश में पिछले 6 सालों में जानबूझकर एक वर्ग विशेष को निशाना बनाया गया, लेकिन काँग्रेस जाग ना सकी-अपने परंपरागत मतदाताओं के लिए । छुपी सहमति मान ले ?

Read More

उत्तर प्रदेश पुलिस और बीजेपी के मुख्यमंत्री अजय सिंह बिष्ट किस का साथ दे रहे है ?

हाथरस के पीड़ित परिवार को बंदी बनाया गया है, उनको किसी से भी मिलने नही दिया जा रहा । जो भी राजनेता पीड़ित परिवार को मिलने जा रहे है उनसे उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ रहा है । पीड़िता को रात के दो बजे ही जला दिय़ा गया, उसकी माँ कैमरे के सामने इसका विरोध करती रही लेकिन खुद उत्तर प्रदेश पुलिस की भुमिका की संदिग्ध नजर आ रही है, क्योंकि इसके पिछे सरकार के आर्डर शामिल है । यहां तक के मिडिया को तक वहाँ जाने से मना किया गया है और वहाँ धारा 144 लगा दि गई है । शायद पीड़ित परिवार को धमका कर अपनी गलतियाँ और नाकामयाबी छुपाने की कोशिश हो रही है ।

#उत्तर_प्रदेश_में_जंगल_राज

हाथरस के घटना के बाद युपी में अन्य तीन बलात्कार की घटनाएं हुई है, याने सिफ तौर पर पुलिस, कानून का डर खतम होते चला जा रहा है । शायद आप बीजेपी के समर्थकों से यह उम्मीद लगाएँ बैठे होंगे की वह इन सब मामलों का खुला विरोध करेंगे लेकिन उनका जागना मुष्किल है । उत्तर प्रदेश मे ठोको निती के तहद सिधे एनकाउन्टर होते है फिर भी इतने जघन्य अपराधों को सरकार और पुलिस प्रशासन रोकने मे नाकाम कैसे ?

दलाल पत्रकार अब भी सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े मामलों को दिखा रहे है जो की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार हत्या साबित नही हुई है । लेकिन यहाँ दुनिया की सबसे

मंदिर-मस्जिद, हिंदु-मुसलमान, आतंकियो का खतरा, सहाब और उनके छिलटों को जान का खतरा, SSR को लेकर चल रहा मिडिया पर चुतियापा ऐसे मुद्दों से यह बेहतर मुद्दा है, कुछ बदलाव तो होंगे ।

Read More

आखिरकार स्मृति महारानी निंद से जाग गई और हाथरस,अमेठी घटना पर काँग्रेस की जमकर आलोचना की ।

#इन्साफ_के_दलाल

Read More