एक लघुकथाकार.कहानीकार.कवयित्रीऔर सबसे पहले एक पाठक जन्मस्थान- फरीदकोट (पंजाब) शिक्षा सहारनपुर से एम ए (हिंदी ,राजनीति शास्त्र ) एम एड प्रकाशित पुस्तकें- उठो नीलांजन( कथा संग्रह ) , स्वप्नभंग (कविता संग्रह ), वह जो नहीं कहा (लघुकथा संग्रह) । स्तरीय पत्रिकाओं में कहानियाँ और लघुकथाएं प्रकाशित। सम्मान- हरियाणा प्रादेशिक हिंदी साहित्य सम्मेलन सिरसा द्वारा लघुकथा सेवी पुरस्कार अनेक पुरस्कार ।

जिस क्षण आप उन चीजों को वक़्त देना बंद कर देते हैं, जिनसे आपकी जिंदगी में सुकून है, उसी पल आपका पतन शुरू हो जाता है

-Sneh Goswami

Read More

Sneh Goswami लिखित कहानी "मैं तो ओढ चुनरिया - 8" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19907968/main-to-odh-chunriya-8

दुनिया में दो लोगों का सम्मान करना चाहिए
पहली वे जिनकी वजह से आप दुनिया में आए
दूसरे वे जो आपके लिए दुनिया में आई

-Sneh Goswami

Read More

Sneh Goswami लिखित कहानी "मैं तो ओढ चुनरिया - 12" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19909791/main-to-odh-chunriya-12

Sneh Goswami लिखित कहानी "तानाबाना - 20" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19899947/tanabana-20

Sneh Goswami लिखित कहानी "तानाबाना - 20" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19899947/tanabana-20